इंडिया में जॉनसन एंड जॉनसन वैक्सीन को इमरजेंसी इस्तेमाल के लिए मंजूरी Johnson & Johnson

इंडिया में जॉनसन एंड जॉनसन वैक्सीन को इमरजेंसी इस्तेमाल के लिए मंजूरी Johnson & Johnson इंडिया में जॉनसन एंड जॉनसन वैक्सीन को इमरजेंसी इस्तेमाल के लिए मंजूरी Johnson & Johnson

SheThePeople Team

07 Aug 2021

इंडिया में जॉनसन एंड जॉनसन वैक्सीन - भारत में हाल में ही दूसरी लहर थमी है और सभी तीसरी लहर को लेकर अभी टेंशन में है। कोरोना तो कण्ट्रोल में आ चुका है और इसके केसेस भी काफी कम हो गए हैं लेकिन इसका डेल्टा वैरिएंट धीरे धीरे बढ़ता जा रहा है। यूनियन मिनिस्टर मनसुख मंडाविया ने कहा कि इंडिया में अब जॉनसन एंड जॉनसन सिंगल शॉट वैक्सीन इमरजेंसी में इस्तेमाल की जा सकती है। यह एक सिंगल शॉट वैक्सीन है और इसका एक शॉट ही 85 % असरदार रहता है।

डेल्टा वैरिएंट क्यों बन रहा है मुसीबत ? इंडिया में जॉनसन एंड जॉनसन वैक्सीन


डेल्टा और डेल्टा प्लस वैरिएंट की वैक्सीन को लेकर अभी सब परेशान हैं। साइंटिस्ट का कहना है कि कोरोना के लिए जो वैक्सीन बनी है जरुरी नहीं है कि वो डेल्टा और डेल्टा प्लस के लिए भी असरदार हो। ऐसे में आज न्यूज़ आयी है कि जॉनसन एंड जॉनसन का सिंगल शॉट यानि सिंगल डोज़ भी डेल्टा वैरिएंट के खिलाफ असरदार साबित हुआ है। हेल्थ केयर कंपनी का कहना है कि ये वैक्सीन डेल्टा के खिलाफ 85 प्रतिशत असरदार है और अस्पताल में भर्ती होने से और डेथ होने से बचा सकती है। यूनियन मिनिस्टर मनसुख मंडाविया ने कहा कि इंडिया में अब जॉनसन एंड जॉनसन वैक्सीन इमरजेंसी में इस्तेमाल की जा सकती है।

डेल्टा वैरिएंट का सबसे पहला सवसे इंडिया में ही आया था लेकिन अब धीरे धीरे कर के ये सभी जगह फैलता जा रहा है और इसके मामले बढ़ते जा रहे हैं। इसके मामले कई और कन्ट्रीज में भी हो गए हैं।

भारत में फिल्हाल वैक्सीन को लेकर क्या परिस्तिथि है ?


ड्रग कंट्रोलर जनरल ऑफ़ इंडिया ने सिप्ला को इंडिया के moderna वैक्सीन इम्पोर्ट करने की परमिशन दी है। ये इंडिया में इमरजेंसी इस्तेमाल के लिए ली जाएगी। ये इंडिया में मिलने वाली 4th वैक्सीन होगी स्पुतनिक वी, कविदशील्ड और कोवैक्सीन के बाद। अभी फिल्हाल इंडिया में सबसे ज्यादा लोगों को कविदशील्ड और कोवैक्सीन ही लगी है।

अनुशंसित लेख