पूरे भारत में सबसे ज्यादा कोरोना के मामले केरल से, ऐसे में क्या ग्यारहवीं क्लास की ऑफलाइन परीक्षा का निर्णय सही है?

पूरे भारत में सबसे ज्यादा कोरोना के मामले केरल से, ऐसे में क्या ग्यारहवीं क्लास की ऑफलाइन परीक्षा का निर्णय सही है? पूरे भारत में सबसे ज्यादा कोरोना के मामले केरल से, ऐसे में क्या ग्यारहवीं क्लास की ऑफलाइन परीक्षा का निर्णय सही है?

SheThePeople Team

17 Sep 2021


Kerala Offline Exams 2021: भारत अबतक कोरोना की दो लहर झेल चुका है। एक्सपर्ट्स तीसरी लहर के लिए आगाह कर रहे है। ऐसे में केरल राज्य में ग्यारहवीं क्लास की ऑफलाइन परीक्षा का निर्णय सही है? दरअसल शुक्रवार को सुप्रीम कोर्ट ने केरल सरकार के 11वीं क्लास के ऑफलाइन परीक्षा आयोजित करने के फैसले पर सुनाया फैसला। सुप्रीम कोर्ट ने सरकार को अब ग्यारहवीं कक्षा के ऑफलाइन परीक्षा को लेकर मंज़ूरी दे दी है।

Kerala Offline Exams 2021: कोर्ट ने सरकार को कोरोना नियमो के पालन करवाने का दिया आदेश

17 सितंबर को कोर्ट ने सुनवाई में 11 वी क्लास की व्यक्तिगत परीक्षा लेने के फैसले को मंज़ूरी तो दे दी है, लेकिन साथ ही SC ने राज्य सरकार को बच्चों की सुरक्षा का खयाल रखने के भी निर्देश दिए है। सुप्रीम कोर्ट ने आदेश जारी कर कहा की केरल सरकार परीक्षा के दौरान सभी कोरोना नियमों का सख्ती से पालन करवाएगी।

इससे पहले केरल सरकार ने 6 सितंबर से 11वीं के लिए व्यक्तिगत परीक्षा आयोजित की थी, जबकि राज्य में कोरोना के मामले बेहद तेज़ी से बढ़ रहे है। मामले में 3 सितंबर को सुप्रीम कोर्ट ने सरकार के परीक्षा आयोजित करने के फैसले पर अंतरिम रोक लगा दी थी।

केरल में आ रहे है कोरोना के सबसे ज्यादा केसेस

9 सितम्बर को आई कोरोना रिपोर्ट के मुताबिक़ केरल से 30,196 कोरोना के केस सामने आए जिससे पता लगता है कि भारत में 70% केसेस सिर्फ केरल से ही आ रहे हैं। ऐसे में क्या सुप्रीम कोर्ट का सरकार के ऑफलाइन परीक्षा के निर्णय पर मोहर लगाना सही था? क्या कोर्ट और सरकार बच्चों की सुरक्षा की ज़िम्मेदारी अच्छी तरह निभा पाएंगे। खैर इन सभी सवालो के जवाब हमे कुछ दिन में देखने को मिल ही जायेंगे।


अनुशंसित लेख