आँखें हमारे शरीर की सबसे नाज़ुक हिस्सा होती हैं। एक इंसान अपनी आँखें एक मिनट में 15 से 20 बार झपकाता है पर जब वो फ़ोन इस्तेमल करते हैं तो अपनी पलके झपकाना कम कर देते हैं। इसके कारण आँखें ड्राई होना और सर दर्द जैसी समस्या हो जाती है। इसलिए हमारे छोटी छोटी चीज़ों का प्रभाव भी आखों पर ज्यादा पढता है। आजकल के दौर में दिन भर कंप्यूटर, लैपटॉप और मोबाइल में आँखें गढ़ाये रखने से आँखें बहुत कमजोर हो जाती हैं। आज हम बताएंगे लैपटॉप और फ़ोन से आँखों को क्या नुकसान होते हैं –

आँखों में दर्द के कारण

आँखों में दर्द होने के भी कई कारण होते हैं जैसे कि धूल मिट्टी की वजह से, चोट लगने के कारण, कांटेक्ट लेन्सेस के कारण या फिर आँखों में किसी रोग के कारण जैसे कि ग्लूकोमा या काला मोतिया।

नींद की कमी होना – लैपटॉप और फ़ोन से नुकसान

जब हम फ़ोन चलाते हैं तो हमे रात को बहुत देर तक नींद नहीं आती है क्योंकि फ़ोन से निकलने वाली ब्लू लाइट हमारे शरीर को सुलाने वाला केमिकल मेलाटोनिन को कम कर देता है। इसके कारण से ही हम रात को लेट तक सो नहीं पाते हैं जिसके कारण कई स्वास्थ सम्बन्धी समस्या होने लग जाती हैं।

 ब्लू लाइट से बचने के लिए क्या करें ?

इस से बचने के लिए आप ब्लू रेज़ को कम करने वाला सादा बिना नंबर का चस्मा बनवाएं। इसके बाद जब भी आप फ़ोन या लैपटॉप चलाएं तो यही चस्मा लगाकर चलाएं।

एप डाउनलोड करें

आप आपके फ़ोन में कुछ एप भी डोवालोड करलें जिस से की लाइट का प्रभाव आँखों के लिए कम हो जाता है। इस से आप नुकसान से बचेंगे और आपकी आँखें ज्यादा थकेगी नहीं। इसके लिए आप Twilight , Blue Light Filter , easy eyes एप को डाउनलोड करलें।

दूरी बनाएं

जब आप फ़ोन इस्तेमाल करते हैं तो आप फ़ोन को हर 20 मिनट बाद थोड़ी दूरी से चलाएं इस से आँखों को लगातार इस्तेमाल से आराम मिलेगा।

Email us at connect@shethepeople.tv