फ़ीचर्ड

Live-In Relationship के 5 फ़ायदे

Published by
Sakshi

जब कोई भी दो प्रेमी, चाहे वो स्त्री-पुरुष हों, स्त्री-स्त्री हों या पुरुष-पुरुष हों, बिना शादी किये एक घर में साथ रहने का फैसला करते हैं, तो उसे लिव-इन रिलेशनशिप का नाम दिया जाता है। आज शहरी लोग तेज़ी से लिव-इन रिलेशनशिप की ओर बढ़ रहे हैं। इसके मशहूर होने के कई कारण हैं, जिनमें से कुछ मैं आपको बताने वाली हूँ। Live-In Relationship ke fayde

जानिए लिव-इन रिलेशनशिप के फ़ायदे (Live-In Relationship ke fayde)

1. आपको एक दूसरे के साथ ज़्यादा समय मिलता है।

ज़ाहिर सी बात है कि जब आप किसी के साथ रहते हैं तो आपको एक दूसरे के साथ ज़्यादा समय मिलता है। ऐसे में आप एक दूसरे के साथ कंफ़र्टेबल हो पाते हैं और नज़दीक से जान पाते हैं। साथ रहकर ही आपको पता चलता है कि आप कंपैटिबल हैं या नहीं। लेकिन इन सबसे बड़ी है रोज़ घर लौट कर पार्टनर को देखनी की खुशी और साथ रहने की आदत। रिलेशन के शुरुआती दौर में आप एक दूसरे को लेकर पागल होते हैं लेकिन समय के साथ मैच्योरिटी और आदत ही आप को एक दूसरे से बाँधने का काम करती है।

2. आप शादी वाले प्रेशर से बच सकते हैं।

लिव-इन रिलेशनशिप में आप एक दूसरे के प्रति ज़िम्मेदार भी होते हैं और एक दूसरे से आज़ाद भी। आप पर किसी भी तरह का प्रेशर नहीं होता। आप पार्टनर के रिश्तेदारों से रिश्ता निभाने के लिए मजबूर नहीं होते। आप अपने रिलेशनशिप को कमिटमेंट और ट्रस्ट के बेसिस पर चलाते हैं, सोसाइटी के फ़ोर्स की वजह से नहीं।

3. आपको आर्थिक आज़ादी (फ़ाईनैनशियल फ्रीडम) मिलती है।

लिव-इन रिलेशनशिप का सबसे बड़ा फ़ायदा ये है कि आप पार्टनर पर अपनी ज़रूरतों के लिए निर्भर नहीं होते। आप घर के खर्चों का बँटवारा कर लेते हैं ताकि दोनों में से किसी एक पर पूरी ज़िम्मेदारी ना आये। इसके साथ ही आपको अपने खर्च का ब्यौरा पार्टनर को देने की ज़रूरत नहीं पड़ती। आपको हर चीज़ के लिए उनकी मंज़ूरी नहीं चाहिए।

4. आपके टाइम की बचत होती है।

आप अपनी रोज़मर्रा की ज़िंदगी के व्यस्त दिनचर्या में से पार्टनर से मिलने के लिए टाइम निकालते हैं। कभी-कभी ये बहुत थका देता है और आप चीज़ें खत्म करने तक का विचार कर लेते हैं। लिव-इन रिलेशनशिप आपके टाइम की बचत करता है। आपको रोज़-रोज़ पार्टनर से मिलने के लिए दूर तक ट्रैवल नहीं करना पड़ता क्योंकि आप साथ रहते हैं।

5. आप आसानी से अलग हो सकते हैं।

चूँकि आप शादी के बंधन में नहीं बँधे हैं, आप बिना किसी मुसीबत के अलग हो सकते हैं। शादी के बाद तलाक की प्रक्रिया लम्बी और पेचीदा होती है। आपको कोर्ट के कई चक्कर लगाने पड़ सकते हैं और अन्य कानूनी बाधाओं का सामना पड़ सकता है। इसपर समाज और घरवालों का भी बहुत प्रेशर होता है क्योंकि तलाक भारत में एक टैबू है। लिव-इन रिलेशनशिप में आप इन चीजों से बच जाते हैं और आसानी से अलग हो सकते हैं। ये थे Live-In Relationship ke fayde

पढ़िए : क्या आप शादी नहीं करना चाहते? सिंगल रहने के 7 फ़ायदे

Recent Posts

शालिनी तलवार कौन है? हनी सिंह की पत्नी जिन्होंने उनके खिलाफ घरेलू हिंसा का मामला दर्ज कराया है

यो यो हनी सिंह की पत्नी शालिनी तलवार ने उनके खिलाफ 3 अगस्त को दिल्ली…

8 hours ago

हनी सिंह की पत्नी ने दर्ज कराया उनके खिलाफ घरेलू हिंसा का केस, जाने क्या है पूरा मामला

बॉलीवुड के मशहूर सिंगर और अभिनेता 'यो यो हनी सिंह' (Honey Singh) पर उनकी पत्नी…

8 hours ago

यो यो हनी सिंह पर हुआ पुलिस केस : पत्नी ने लगाया घरेलू हिंसा का आरोप

बॉलीवुड सिंगर और एक्टर यो यो हनी सिंह की पत्नी शालिनी तलवार ने उनके खिलाफ…

9 hours ago

ओलंपिक मैडल विजेता मीराबाई चानू पर बनेगी बायोपिक : जाने बायोपिक से जुड़ी ये ज़रूरी बातें

वे किसी ऐसे व्यक्ति की तलाश में हैं जो ओलंपिक मैडल विजेता की उम्र, ऊंचाई…

9 hours ago

मुंबई सेशन्स कोर्ट ने गहना वशिष्ठ को अंतरिम राहत देने से किया इनकार

मुंबई की एक सत्र अदालत ने अभिनेत्री गहना वशिष्ठ को उनके खिलाफ दायर एक पोर्नोग्राफी…

9 hours ago

ओलंपिक मैडल विजेता मीराबाई चानू पर बायोपिक बनने की हुई घोषणा

लंपिक सिल्वर मैडल विजेता वेटलिफ्टर सैखोम मीराबाई चानू की बायोपिक की घोषणा हाल ही में…

10 hours ago

This website uses cookies.