फ़ीचर्ड

क्या आप शादी नहीं करना चाहते? सिंगल रहने के 7 फ़ायदे

Published by
Sakshi

बहुत से लोग इस ग़लतफहमी में रहते हैं कि सिंगल होने का मतलब लोनली होना है। ये तथ्य के बिल्कुल विपरीत है। कई रिसर्च में ये पाया गया है कि आप सिंगल होने पर कम अकेलापन महसूस करते हैं। सिंगल होने के एक नहीं कई फ़ायदे हैं। आइये कुछ फायदों पर नज़र डालते हैं जानिए single rehne ke fayde

single rehne ke fayde

1. आप ख़ुद से प्यार कर पाते हैं।

सिंगल होने का सबसे बड़ा फ़ायदा ये है कि आप ख़ुद के साथ अपना रिश्ता मज़बूत कर सकते हैं। रिलेशनशिप में आप ख़ुद को कहीं खो देते हैं। “मैं” की जगह “हम” पर फोकस करने लगते हैं जबकि सिंगल रह कर आप ख़ुद को एक्सप्लोर करते हैं, खुद से प्यार करना सीखते हैं। आप अपनी फ्रीडम की वैल्यू समझेंगे।

2. दोस्तों को समय दे पाते हैं।

पार्टनर और काम को समय देने में आप दोस्तों से कट जाते हैं। आप एक रिश्ते में इतना उलझ जाते हैं कि और किसी के लिए वक़्त ही नहीं बचता। आप दोस्तों और पार्टनर के बीच इक्विलिब्रियम नहीं बना पाते। सिंगल रह कर आप दस्तों के साथ अपने रिश्ते को निखार सकते हैं। दोस्तों के साथ टाइम स्पेंड करने के दो फायदे हैं – आपको पार्टनर की ज़रूरत महसूस नहीं होती और आपको बनावटी नहीं होना पड़ता।

3. हर काम अपनी मर्ज़ी से कर सकते हैं।

रिलेशनशिप में रहते हुए आप सब कुछ अपने हिसाब से नहीं कर सकते। आपके डिसीशन्स में पार्टनर का इन्वॉल्वमेंट रहता ही है जबकि सिंगल रहने पर आप जो चाहें कर सकते हैं। गलत फ़ैसलों के लिए आपको जज करने वाला कोई नहीं होगा। समय के साथ आप बेहतर हो सकेंगे और ख़ुद पर भरोसा करना सीखेंगे। आपका सेल्फ कॉन्फिडेंस बूस्ट होता है।

4. आप रिलेशनशिप स्ट्रेस से मुक्त रहते हैं।

रिलेशनशिप अगर कंपैनियन देता है तो साथ में स्ट्रेस भी भरपूर देता है, आपको शांति नहीं मिलती। ये समस्या सिंगल होने पर नहीं रहती। आप लाइफ इंजॉय कर सकते हैं और स्ट्रेस फ्री होकर रोज़ रात को चैन से सो सकते हैं। आपकी लाइफ में पहले ही बहुत कुछ है स्ट्रेस लेने के लिए उसमें रिलेशनशिप स्ट्रेस ऐड नहीं करेंगे तो ज़्यादा सुकून मिलेगा।

5. करियर पर ज़्यादा ध्यान दे सकेंगे।

आप अपने करिअर गोल्स और लाइफ गोल्स को अचीव करने पर पूरा फोकस करेंगे। सिंगल रहने से आप ध्यान नहीं बंटेगा। आप जो पाना चाहते हैं उसके पीछे जी तोड़ मेहनत कर सकेंगे। आपके सक्सेसफ़ुल होने के चांसेस बढ़ सकते हैं।

6. आप अपनी प्रॉब्लम्स ख़ुद सॉल्व करेंगे।

आप अपनी समस्याओं का हल ढूँढना सीखेंगे। इससे दूसरों पर आपकी डिपेंडेंसी कम होती जाएगी और आप स्वतंत्र रह सकेंगे। साथ ही आप ये समझेंगे कि आपको किसी और की ज़रूरत नहीं है, आप ख़ुद को अच्छी तरह से सम्भाल सकते हैं।

7. आप खुश रह पाते हैं।

जितना आप ख़ुद के करीब आएँगे, उतने ही खुश होते जाएँगे। आप अकेलापन महसूस नहीं करेंगे। आपका ज़िंदगी जीने का अपना एक अनोखा ढंग होगा। आप अपनी हॉबीज़ पर वर्क कर सकेंगे। इससे आप इमोशनली हेल्दी भी रहेंगे।

ये थे कुछ single rehne ke fayde

पढ़िए :अरेंज मैरिज करने के 5 फायदे

Recent Posts

श्रद्धा कपूर के बारे में 10 बातें

1. श्रद्धा कपूर एक भारतीय एक्ट्रेस और सिंगर हैं। वह सबसे लोकप्रिय और भारत में…

55 mins ago

सुष्मिता सेन कैसे करती हैं आज भी हर महिला को इंस्पायर? जानिए ये 12 कारण

साल 1994 में सुष्मिता सेन ने भारत के लिए पहला "मिस यूनिवर्स" खिताब जीता था।…

1 hour ago

केरल रेप पीड़िता ने दोषी से शादी की अनुमति के लिए SC का रुख किया

केरल की एक बलात्कार पीड़िता ने शनिवार को सुप्रीम कोर्ट का रुख कर पूर्व कैथोलिक…

3 hours ago

टोक्यो ओलंपिक : पीवी सिंधु सेमीफाइनल में ताई जू से हारी, अब ब्रॉन्ज़ मैडल पाने की करेगी कोशिश

ओलंपिक में भारत के लिए एक दुखद खबर है। भारतीय शटलर पीवी सिंधु ताई त्ज़ु-यिंग…

4 hours ago

वर्क और लाइफ बैलेंस कैसे करें? जाने रुटीन होना क्यों होता है जरुरी?

वर्क और लाइफ बैलेंस - बहुत बार ऐसा होता है जब हम अपने काम में…

4 hours ago

योग क्यों होता है जरुरी? जानिए अनुलोम विलोम करने के 5 चमत्कारी फायदे

अनुलोम विलोम करने से अगर आपके फेफड़ों में किसी तरह की कोई विषैली गैस होती…

5 hours ago

This website uses cookies.