सेक्स में जितना ज़रूरी है एक दूसरे को प्लेज़र प्रोवाइड करना उतना ही ज़रूरी है एक दूसरे को सेक्सुअली ट्रांसमिटेड डिसीसेस से बचाना। आम तौर पर हम कंट्रासेप्शन के तरीकों का इस्तेमाल करके खुद को अनवांटेड प्रेगनेंसी और बिमारियों से बचा सकते हैं। कंट्रासेप्शन का सबसे आसान तरीका है लड़कों में कॉन्डम का इस्तेमाल करना। पर इसके लिए भी लड़के तैयार नहीं होते हैं।

1. क्या है कॉन्डम?

कॉन्डम एक प्रकार की प्रोटेक्टिव कवरिंग है जिसको मर्द अपनी पेनिस पे लगा सकते हैं। कॉन्डम पहनने से किसी औरत की वुलवा में स्पर्म की एंट्री नहीं हो पाती है। कॉन्डम आपको सेक्सुअली ट्रांसमिटेड डिसीसेस से किसी भी और कंट्रासेप्शन मेथड से बेहतर बचाता है।

2. क्या है लड़कों की प्रॉब्लम?

लड़के कॉन्डम यूज़ ना करने के कई तरह के बहाने देते हैं। उनके हिसाब से उनको कॉन्डम की ज़रूरत इसलिए नहीं है क्योंकि इससे “उनकों अनकंफर्टबल लगता है”, “वो हार्ड नहीं रह पाते हैं”, “वो HIV नेगेटिव हैं” या फिर “सही समय पे पुल आउट कर सकते हैं”। इन सब बातों से महिलाओं को सावधान रहने की ज़रूरत है क्योंकि भले ये बातें सुनने में कितनी भी सेक्सी क्यों ना लगे इन पर भरोसा नहीं किया जा सकता है।

3. सेक्स में इक्वलिटी ज़रूरी है

जितना बाहरी दुनिया में इक्वलिटी ज़रूरी है उतना ही ये बैडरूम में भी ज़रूरी है। ज़्यादातर मर्दों को सेक्स में लीड लेना है पर वहीं बात अगर प्रोटेक्शन की आए तो उनकी बोलती बंद हो जाती है। मर्दों को महिलाओं का बर्थ कण्ट्रोल पिल्स यूज़ करना ज़्यादा सुविधाजनक लगता है। ये बात सही नहीं है। बर्थ कण्ट्रोल पिल्स से महिलाओं के बॉडी में हार्मोनल इम्बैलेंसेस हो सकते हैं।

4. क्यों ज़रूरी है लड़कों का कॉन्डम यूज़ करना?

लड़के चाहे कितने भी बहाने बना लें अगर वो कॉन्डम का सही से यूज़ करेंगे तो खुद भी किसी तरह की बीमारी से बचेंगे और अपनी पार्टनर को भी बचा पाएंगे। अगर वो कॉन्डम यूज़ ना करें और समय पे पुल आउट ना कर पाएं तो इससे प्रेगनेंसी का खतरा है जिससे सिर्फ महिलाओं को गुज़ारना पड़ता है ना की मर्दों को।

5. महिलओं को लेना चाहिए बैडरूम में लीड

अगर आपको बर्थ कण्ट्रोल पिल्स यूज़ करने में किसी तरह की प्रॉब्लम हो तो आपको इसे फोर्सिबली यूज़ करने की कोई ज़रूरत नहीं है। कॉन्डम सेक्सुअली ट्रांसमिटेड डिसीसेस से आपको किसी भी और कंट्रासेप्शन मेथड से बेहतर बचा सकता है। इसलिए आपको अपने पार्टनर से इस बारे में बात करना ज़रूरी है। अगर कोई लड़का आपकी प्रॉब्लम को सुनने के बाद भी कॉन्डम यूज़ करने के लिए तैयार नहीं है तो फिर वो आपके साथ सेक्स डिज़र्व नहीं करता है। इन पावर डायनामिक्स के फेरे में बिलकुल मत फसिए और याद रखिएं की आपकी सेफ्टी सबसे ज़्यादा इम्पोर्टेन्ट है।

Email us at connect@shethepeople.tv