पिछले साल आए कोरोना महामारी के कारण हम सभी के जीवन एकदम अस्त व्यस्त हो गए हैं। इसकी वजह से सभी लोग महीनों अपने घरों में बंद रहे। ऐसे में सभी लोग फिजिकल से डिजिटल पर शिफ्ट हुए। प्रधान मंत्री मोदी ने लॉक डाउन के दौरान अक्सर सभी से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के ज़रिए ही मीटिंग्स की है और आज भी वो कोरोना को लेकर मुख्यमंत्रियों से बातचीत करेंगे। कोरोना के बढ़ते मामलों के कारण प्रधान मंत्री मोदी मुख्यमंत्रियों से मिलेंगे –

1. यह हैं कोरोना के हालात –

  • आज सुबह कोरोना के (28,903) नए मामले सामने आए हैं।
  • इस से पहले इतने मामले पिछली बार दिसंबर  (30,254) में देखे गए थे।
  • 15 जनवरी के बाद से कोरोना से कुल 188 मौतें हुई हैं।
  • पिछले 24 घंटे में सबसे अधिक मामले महाराष्ट्र (17 ,864), केरल (1,970), पंजाब (1,463), कर्नाटक (1,135) और गुजरात (954) में सामने आए हैं।

देखा जा रहा है कि कोरोना थमने के बाद एक बार फिर से बढ़ना चालू हो गया है। अब तक कुल 19 राज्यों में मामले तेजी से बढ़े हैं। इन 19 राज्यों में से 15 महाराष्ट्र के ही हैं। एक महीने पहले तक मामले सिर्फ तीन राज्यों में ही बढ़ रहे थे। सभी से कोरोना को लेकर फिर से सख्ती बरतने को कहा जा रहा है।

2. कोरोना टीकाकरण अभियान – मोदी मुख्यमंत्रियों से मिलेंगे

कई राज्यों में भारत सरकार द्वारा टीकाकरण अभियान भी चालू है। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा प्राथमिकता वाले लोगों की पूरी लिस्ट तैयार की गयी है। इस लिस्ट में कुल 30 करोड़ लोग हैं। इन 30 करोड़ में से 1 करोड़ लोग स्वास्थ्य कार्यकर्ता, 2 करोड़ पुलिस विभाग से और 27 करोड़ ऐसे लोग हैं जिनकी उम्र 50 से ऊपर है या फिर जो 50 की उम्र के नीचे हैं पर उन्हें कोई बीमारी है।

3. बच्चों को वैक्सीन

बच्चों को वैक्सीन देने को लेकर अभी कोई भी साफ़ बात सामने नहीं आयी है। कोरोना की वैक्सीन का टेस्ट बच्चों के ऊपर नहीं किया गया है इसलिए बच्चों को फ़िलहाल के लिए वैक्सीन नहीं दी जाएगी और उनको अभी इंतज़ार करने को कहा गया है।

Email us at connect@shethepeople.tv