पॉलीसिस्टिक ओवरी डिजिज (PCOD/PCOS) महिलाओं में एण्ड्रोजन (पुरुष हार्मोन) का लेवल ज्यादा होने के कारण होता है।PCOD/PCOS के लक्षणों में अनियमित माहवारी या पीरियड्स नहीं आना, दर्दभरा व लम्बा मासिक धर्म, चेहरे पर अनचाहे बाल, मुंहासे, पेल्विक दर्द, प्रेगनेंसी में कठिनाई होना है। आइये जानते है PCOD/PCOS के दौरान पुछे जाने वाले सवालों के कुछ आसान जवाब । (PCOD/PCOS से जुड़े सवाल)

PCOS आखिर होता क्यों है? (PCOD/PCOS se jude sawal)

यह एक जेनेटिक छाप या कोडिंग है जिसके साथ एक लड़की जन्म लेती है। उनमें से ज्यादातर में मां या पापा के परिवार की बाकी महिलाओं जैसा एक समान पैटर्न चल रहा होता है। (PCOD/PCOS से जुड़े सवाल)

क्या जंक फूड PCOS का कारण बन सकता है?

नही, सौभाग्य से और हां, दुर्भाग्य से। जंक फूड या अनहेल्दी लाइफस्टाइल किसी में PCOS का कारण नही हो सकता खासकर तब जब ये समस्या लड़की में जेनेटिक ना हो लेकिन एक कारण जरूर बन सकता है अगर उसमें जेनेटिकली ही ये समस्या आ जाए तो।

क्या ब्रेकआउट होने का मतलब हमेशा PCOD होना होता है?

जरूरी नही। PCOD होने की संभावना इन तरह के ब्रेकआउट में ज्यादा होती है:

1. ज्यादा जबड़े के गाल, ठोड़ी और ऊपरी गर्दन के आसपास मांस होना
2. बड़े आकार में और कलस्टर्स में
3. पेनफुल और छूने के लिए कोमल
4. अनियमित पीरियड्स से (PCOD/PCOS से जुड़े सवाल)

क्या किसी के पतला और दुबला होने पर भी PCOS हो सकता है?

हां, उन्हें हो सकता है। 5 प्रतिशत सभी दुबली महिलाओं में PCOS हो सकता है। PCOS 20 से 30 प्रतिशत वजन में कम या दुबली महिलाओं में होता है। (PCOD/PCOS से जुड़े सवाल)

क्या PCOS में स्ट्रीक्ट डाईट फॉलो करने की जरूरत है?

हर्गिज नहीं। ऐसे किसी चीज़ की जरूरत नही है। हां, जंक फ़ूड,अधिक मीठा,फैट युक्त भोजन,अत्यधिक तैलीय पदार्थ,सॉफ्ट ड्रिंक्स, का सेवन बंद कर अच्छा पौष्टिक आहार लेना ज़रूरी है। अपनी डाइट में फल,हरी सब्जियां,विटामिन बी युक्त आहार,खाने में ओमेगा 3 फेटी एसिड्स से भरपूर चीज़ें शामिल करें जैसे अलसी, फिश, अखरोट आदि।

Email us at connect@shethepeople.tv