कोविड-19 का यह दौर यकीनन ही सबके लिए मुश्किलों भरा रहा, मगर इस दौर की मुश्किलों ने हमें एक स्वस्थ जीवनशैली से रूबरू करवाया, जो हमारे स्वास्थ्य के लिए बेहद जरूरी थी। भले ही कुछ लोग  मजबूरी में तो कुछ अपने पूरे मन से , मगर हर कोई एक स्वस्थ जीवनशैली की ओर जरूर बढ़ा। नीचे कुछ ऐसी ही 6 चीजें बताई गई हैं, जो हमें कोरोना के दौर ने सिखाई मगर इनको हमें जीवनभर अपनाने की जरूरत है।

image

कोरोना के बाद भी इन 6 जरूरी आदतों को न छोड़ें – post-covid things to do hindi

1. एक्सर्साइज़ को अपने जीवन का हिस्सा बनाएँ ।

कोरोना के कारण लोगों को अपने लिए काफी समय मिला। और कोरोना के डर से कहें या ज्यादा समय मिलने के कारण , जो भी हो मगर लोगों ने अपने स्वास्थ्य पर ज्यादा ध्यान देना शुरू किया और जमकर एक्सर्साइज़ की।

एक्सर्साइज़ करना, हमारे शरीर के लिए बेहद जरूरी होता है। नियमित रूप से एक्सर्साइज़ करने से न केवल हमारा शरीर सूडोल बनता है बल्कि हमारा मन भी एकाग्र व शांत होता है। इसी कारण न केवल कोरोना के समय बल्कि हमें हमेशा खुद के लिए थोड़ा समय निकालकर एक्सर्साइज़ जरूर करनी चाहिए।

2. साफ-सफाई का रखें खास ख्याल ।

कोरोना के दौर ने, हमें यह तो साफ बात दिया कि साफ-सफाई का ध्यान रखना एक स्वस्थ और सुरक्षित जीवन जीने के लिए, बेहद जरूरी होता है। और इस बात को हमें जीवनभर याद रख , इसपर अमल करने की जरूरत है।

जब भी कहीं बाहर से घर आयें तो अपने जूते-चप्पलों को घर के बाहर ही उतारें और अपने हाथों को अच्छे से धोकर ही अंदर जाएँ। इसके साथ ही जब तक आप खुद को अच्छे से साफ कर कपड़े नहीं बदल लेते, तबतक घर में ज्यादा घूमने और ज्यादा चीजों को छूने से बचें। और याद रखें कि बाहर की किसी भी चीज़ को बिना साफ किए अंदर नहीं लाना है।

कभी भी अपने हाथों को बिना धोएँ , मुंह पर न लगाएँ। इससे यदि आपके हाथों में कोई  इन्फेक्शन होगा , तो वो आपके मुंह तक नहीं पहुंचेगा।

3. हेल्दी खाने से रिश्ता जोड़ लें ।

जब कोविड-19 के कारण सभी रेस्टोरेंट और ढाबों को बंद होना पड़ा, तब हर कोई अपने घर का बना खाना खाने को मजबूर हुआ। लगातार घर का खाना खाने के कारण , लोगों में acidity और खाना न पचने की शिकायत तक कम हुई। साथ ही , इस दौरान हमें अपने घर के खाने की महत्वता का पता चला।

घर का हेल्दी खाना हमारे स्वास्थ्य के लिए बेहद लाभदायक होता है। और जितना हो सके हमे कोशिश करनी चाहिए कि हम घर का बना खाना ही खाएँ।

4. पर्सनल चीजें शेयर करने से बचें ।

शेयरिंग करना एक अच्‍छी आदत है, लेकिन जब बात पर्सनल हाइजीन की आती है तो अपनी पर्सनल चीजों को शेयर करना गलत माना जाता है। क्योंकि शेयरिंग से तमाम बैक्टीरीआ का एक बॉडी से दूसरी बॉडी में , ट्रांसफर होने का खतरा रहता है। कभी भी अपनी पर्सनल चीजें जैसे अपना टूथब्रश , टॉवल , नेल फाइलर , मेकअप किट , आदि किसी के साथ शेयर नहीं करनी चाहिए।

कोरोना के दौर में इस चीज पर सभी ने बहुत ध्यान दिया, मगर केवल कोरोना में ही नहीं हमें हमेशा ही अपनी पर्सनल चीजों को शेयर करने से बचना चाहिए।

5. सेहत को नज़रअंदाज़ न करें ।

कोविड-19 के दौर ने हमें सेहत के प्रति वफादार रहना समझाया है। अगर अच्छी सेहत रहेगी तो हर काम को बखूबी ढंग से किया जा सकता है, मगर यदि सेहत नहीं तो कुछ भी करना संभव नहीं होगा।

बहुत से लोग काम के चक्कर में अपना सुबह का भोजन नहीं लेते, और ये सेहत के लिए बेहद गलत है। हमें हमेशा अपनी सेहत को प्राइऑरटी देनी चाहिए। और न केवल कोरोना के दौर में बल्कि किसी भी हाल में अपनी सेहत को नज़रअंदाज़ नहीं करना चाहिए।

6. परिवार के करीब रहें।

कोरोना के कारण लोगों ने अपने परिवार के साथ खूब समय बिताया। और यह यकीनन सभी के लिए, बेहद खूबसूरत अनुभव रहा होगा। अब भले ही सब अपने काम के चलते वापिस घर से दूर हो जाएंगे, मगर फिर भी वॉइस कॉल और विडिओ कॉल की मदद से परिवार के संपर्क में रहें।

हमेशा परिवार के साथ किसी-भी प्रकार से जुड़े रहना बेहद जरूरी होता है। साथ ही , हमें हमेशा अपनी कोशिश रखनी चाहिए कि हम काम से थोड़ा समय निकालकर अपने परिवार को दे पाएँ। ऐसा करने से हमारी छोटी-सी दुनिया खूबसूरत तो बनी ही रहती है, साथ ही हमें हिम्मत व मानसिक शांति भी मिलती है।

पढ़िए : कैसे करे कोरोना काल में नवजात शिशु की देखभाल? जानिए ये 3 बेहतरीन टिप्स

Email us at connect@shethepeople.tv