जानिए आखिर क्यों प्रियंका चोपड़ा के न्यू शो 'द एक्टिविस्ट' के फॉर्मेट पर उठ रहें हैं सवाल

जानिए आखिर क्यों प्रियंका चोपड़ा के न्यू शो 'द एक्टिविस्ट' के फॉर्मेट पर उठ रहें हैं सवाल जानिए आखिर क्यों प्रियंका चोपड़ा के न्यू शो 'द एक्टिविस्ट' के फॉर्मेट पर उठ रहें हैं सवाल

SheThePeople Team

15 Sep 2021


न्यू शो 'द एक्टिविस्ट' के फॉर्मेट पर उठ रहे सवाल: इन दिनों प्रियंका चोपड़ा अपने नए हॉलीवुड प्रोजेक्ट के लिए सुर्ख़ियों में हैं। बता दें कि पीसी हॉलीवुड में फ़िल्में करने के बाद अब रियलिटी शो होस्ट करने जा रहीं हैं। 22 अक्टूबर को शुरू होने वाला शो 'The Activist' में पीसी बतौर होस्ट नज़र आयेंगी और उनका साथ देंगे उनके को-होस्ट अशर और जूलियन होफ। हालांकि, सोशल मीडिया पर इस शो को लेकर काफी आलोचना की जा रही है। 

न्यू शो 'द एक्टिविस्ट' के फॉर्मेट पर उठ रहे सवाल

दरअसल ये शो सोशल वर्क पर बेस्ड है, इसमें सोशल वर्क और चैरिटी के जरिये टीमों को अपना बेस्ट प्रदर्शन करना होगा। शो के फॉर्मेट के हिसाब से 6 सोशल वर्कर्स की 3 टीमें तैयार की जायेंगी, जो एक-दूसरे खिलाफ अपने-अपने चैरिटी को प्रमोट करेंगे। इसमें उन्हें मिशन, मीडिया स्टंट, डिजिटल कम्पेन्स और कम्युनिटी इवेंट्स करने का मौका मिलेगा।
बता दें कि शो के तीनों होस्ट, प्रियंका चोपड़ा जोनस, अशर और जूलियन होफ एक-एक टीम की मेज़बानी करेंगे। प्रियंका चोपड़ा इन दिनों हॉलीवुड के कई प्रोजेक्ट्स में बिजी हैं। वह कीनू रीव्स के साथ द मैट्रिक्स: रिसरेक्शन्स में नजर आएंगी। अभिनेत्री का एक रियलिटी शो भी है जिसका टाइटल है 'द एक्टिविस्ट लाइन अप'। 

कई सेलिब्रिटीज ने भी किया क्रिटिसाइज़

शो के फॉर्मेट को लेकर सोशल मीडिया पर पीसी को काफी ट्रोल किया जा रहा है, वहीं शो को कई सेलिब्रिटीज ने भी क्रिटिसाइज़ किया और सोशल वर्क और चैरिटी का मज़ाक बनाने का गंभीर आरोप भी लगाया। एक्ट्रेस जमीला जमील ने ट्वीट करके इस शो की कड़ी निंदा की। उन्होंने कहा कि ये शो एक्टिविज्म को खेल में बदल रहा है। शो में लगने वाले पैसों के ऊपर सवाल करते हुए जमीला ने मेकर्स और प्रोडूसर्स को उन पैसों को सही मायने में एक्टिविज्म में इस्तेमाल करने कि सलाह दी।

एक यूजर ने ट्वीट करके सवाल खड़े किये कि क्या ये शो ये दिखता है कि पैसों और अटेंशन पाने के लिए एक्टिविस्ट आपस में लड़ बैठेंगे? इस तरह के सवाल शो के फॉर्मेट को पूरी तरह से खोल कर रख देता है कि आखिर सोशल वर्क करने के लिए समाज के एक्टिविस्ट एक दूसरे से आगे क्यों बढ़ना चाहते हैं? 

कई यूजर्स ने प्रियंका चोपड़ा को भी ट्रोल कर दिया और बोला कि जिस प्रियंका ने भारत में मोदी के समर्थन में स्टूडेंट्स, एक्टिविस्ट और बुद्धिजीवियों को जय कराई थी, वो प्रियंका चोपड़ा अब अमेरिका को सोशल जस्टिस का पाठ पढ़ाएगी।

 

 


अनुशंसित लेख