क्या आप बार-बार इस सोच में पड़ जाते हैं कि आपका रिलेशनशिप कितने दिन तक टिकेगा, आपके पार्टनर आपसे प्यार करते हैं या नहीं, आप उनके लायक हैं या नहीं इत्यादि? इस लगातार होने वाली चिंता को ही ‘रिलेशनशिप एन्ग्जाइटी’ कहते हैं। आप अपने रिलेशनशिप को लेकर श्योर नहीं हो पाते, आपको हमेशा ये चिंता सताती रहती है कि आपका रिलेशनशिप नहीं चल पाएगा। इस समस्या का समाधान निकालना मुश्किल नहीं है। यदि आप ख़ुद पर वर्क करने को तैयार हों तो इस एन्ग्जाइटी से ज़रूर डील कर सकेंगे। हम आपको बताएँगे relationship anxiety se deal karne ke tarike।

जानिए रिलेशनशिप एन्ग्जाइटी से डील करने के तरीके क्या हैं –

1. अपनी आइडेंटिटी मेनटेन करिए

कई बार रिलेशनशिप एन्ग्जाइटी इसलिए भी होती है क्योंकि आप अपनी पहचान को लेकर सेक्योर नहीं होते। जैसे जैसे आप दोनों में क्लोज़नेस बढ़ती है, आपको लगने लगता है कि आपके अस्तित्व पर खतरा बढ़ रहा है इसलिए अपनी आइडेंटिटी मेनटेन करिए। रिलेशनशिप के लिए अपनी पहचान को दाव पर मत लगाइये। पार्टनर को स्पेस देने के लिए ख़ुद को खो देना ही एन्ग्जाइटी का कारण बन सकता है। relationship anxiety deal karne ke tareeke

2. कम्यूनिकेशन मज़बूत करिए

अगर आपको लगता है कि पार्टनर की किसी विशेष आदत की वजह से या अपनी ही किसी कमी की वजह से आपको रिलेशनशिप एन्ग्जाइटी होती है तो इस विषय पर साफ़ तौर पर उनसे बात करिये। बात करके किसी भी चीज़ का हल निकाला जा सकता है। कम्यूनिकेशन मज़बूत करने से आपका बॉन्ड भी पहले से स्ट्रॉंग हो सकेगा।

3. अपनी फीलिंग्स पर ऐक्ट मत करिए

रिलेशनशिप एन्ग्जाइटी होने पर आप ख़ुद को आश्वस्त करना चाहते हैं। आप ख़ुद को यकीन दिलाना चाहते हैं कि सब कुछ सही है और इसके लिए गलत कदम उठाने को भी तैयार हो जाते हैं। कई बार आप पार्टनर को कंट्रोल करने या उनपर बेबुनियात सवाल उठाने जैसा काम कर जाते हैं, जिसका आपको बाद में पछतावा होता है इसलिए बेहतर है कि एन्ग्जाइटी होने पर आप अपनी फीलिंग्स पर ऐक्ट ना करें। हो सके तो कुछ देर अकेले रहें लेकिन कुछ भी हार्मफ़ुल ना करें।

4. मेडिटेशन कीजिए

मेडिटेशन कई मायनों में आपकी फिज़िकल और मेंटल हेल्थ के लिए लाभकारी होता है। ये रिलेशनशिप एन्ग्जाइटी को कम करने में भी मदद करता है। इससे आपका मन शांत होता है और शरीर में पॉज़िटिव एनर्जी प्रोड्यूस होती है। आप लगातार 15-20 दिन मेडिटेशन करके देखिये, आपको यकीनन फ़ायदा नज़र आएगा।

5. थेरेपिस्ट की मदद लीजिये

अगर आपको लगता है कि रिलेशनशिप एन्ग्जाइटी से डील करने का और कोई भी तरीका काम नहीं कर रहा तो थेरेपी का सहारा लीजिए। मेंटल हेल्थ प्रोफेशनल से मिलना सबसे अच्छा कदम है जिसे आप अपनी समस्या को दूर करने के लिए उठा सकते हैं। एक थेरेपिस्ट आपकी इन भावनाओं के पीछे के कारण का पता लगाने में आपकी मदद कर सकता है और इस सिचुएशन से कैसे डील करना है, ये भी बता सकता है। बेहतर ये रहेगा कि ऐसे थेरेपिस्ट के पास जाएँ जो कपल्स से डील करते हों।

बेझिझक प्रोफेशनल की मदद लीजिए, इसमें शरमाने वाली कोई बात नहीं है। कोशिश करिये कि पार्टनर को भी इसमें शामिल कर सकें।

ये थे relationship anxiety se deal karne ke tarike।

Email us at connect@shethepeople.tv