रिलेशनशिप तब तक अच्छा है जब तक उसमें प्यार, इज़्ज़त और कंसेट जैसी वैल्यूज़ हों, नहीं तो यही रिलेशनशिप जेल जैसा लगने लगता है और ज़ाहिर सी बात है जेल में रहना किसी को भी अच्छा नहीं लगता। प्यार या आदत के नाम पर आपको अपने पार्टनर की खराब आदतें, खास करके वो जो आपके लिए हार्मफुल हों, नहीं सहनी चाहिए। relationship mein kya na sahe

जानिए वो कौनसी 5 बातें हैं जो आप अपने रिलेशनशिप में नहीं सहनी चाहिए। relationship mein kya na sahe

।. शरीरिक शोषण

UN की एक रिपोर्ट के मुताबिक लगभग हर तीसरे घर में एक महिला घरेलू हिंसा का शिकार होती है। इसका मतलब है कि इंटिमेट पार्टनर वायलेंस बहुत ही कॉमन है इसलिए ज्यादतर लड़कियाँ इसे दुनिया का दस्तूर मान कर एक्सेप्ट कर लेती हैं। “मारता वही है जो प्यार करता है”, हमारा समाज लड़कियों के लिए इसी उसूल पर चलता है पर क्या शोषण करने वाला कभी प्यार कर सकता है? प्यार तो छोड़िये, क्या शोषण करने वाला इंसान कहलाने लायक भी है? नहीं, बिल्कुल नहीं। इसलिए प्यार के नाम पर शोषित होना छोड़ दीजिये। किसी भी इंसान के लिए अपना आत्मसम्मान त्याग देना गलत है। आपकी बॉडी पर केवल आपका अधिकार है। यदि आपको कोई मारता है तो वो न केवल आपकी आज़ादी छीनता है बल्कि आपके इंसानी अस्तित्व पर हमला करता है।

2. आपके पार्टनर “ना” नहीं सुन सकते।

क्या आप अपने पार्टनर को खुश रखने के लिए या अपना रिलेशनशिप बचाने के लिए, सब कुछ उनकी मर्ज़ी से करती हैं? अगर हाँ, तो ऐसा मत करिये। आपके पार्टनर को “ना” सुनने की आदत होनी चाहिए और ये कंसेट सिर्फ़ बेड तक सीमित नहीं है। आपके रिश्ते से जुड़ी किसी भी बात में आपकी “हाँ” या “न” उनकी अकड़ से ज़्यादा मायने रखती है। अगर आपके पार्टनर आपकी “न” नहीं सुन सकते या कंसेट न देने पर आपसे अलग तरह का व्यवहार करने लगते हैं तो ऐसे रिश्ते को बचाने में आपका कोई लाभ नहीं है।

3. आपके पार्टनर आपको कम महसूस कराते हैं।

कई बार ऐसा होता है कि आप अपने पार्टनर से खुल कर अपनी प्रॉब्लम्स शेयर करती है और वो आपको ही आपकी परेशानियों का कारण बना देते हैं। वो आपको कम महसूस करवाते हैं और ख़ुद हीरो बनके आपको बचाने चले आते हैं। उनके ऐसा करने से आपका अपने ऊपर से भरोसा खत्म होने लगता है, आप नॉर्मल लाइफ में और रिलेशनशिप में ख़ुद को कम और पार्टनर को ज़्यादा महत्व देने लगती हैं और आपको लगता है कि आपके पार्टनर ने आपका साथी बनकर आप पर एहसान किया है। ये आपके सेल्फ वर्थ के लिए घातक है इसलिए ये कभी मत सहिये। आप जैसी है अच्छी हैं और आपकी ज़िंदगी में प्रॉब्लम होना बिल्कुल नॉर्मल है।

4. वो आपकी लाइफ़ कंट्रोल करते हैं।

आप कहाँ रहेंगी, क्या पहनेंगी, किससे मिलेंगी इत्यादि आपके पार्टनर आपको नहीं बता सकते। आपको अपनी ज़िंदगी अपने तरीके से जीने का पूरा अधिकार है। रिलेशनशिप ने आपको एक पार्टनर दिया है और अगर वो पार्टनर की बजाय आपके मालिक बनने की कोशिश करें तो उन्हें छोड़ देने में ही भलाई है।

5. वो मज़ाक के नाम पर आपकी बेज़्ज़ती करते हैं।

अगर आपके पार्टनर मज़ाक के नाम पर सेक्सिस्ट जोक्स पास करें या दूसरों के सामने आपकी बेज़्ज़ती करें तो मत साहिये। आपको ऑफेंड होने का हक है। आप चाहें तो उनसे इस बारे में बात कर सकती हैं। उन्हें समझाइये कि आपको ये सब अच्छा नहीं लगता। अगर समझ जाएँ तो बहुत अच्छी बात है लेकिन अगर ना समझें तो इस रिलेशनशिप में रहने का कोई अर्थ नहीं है।

पढ़िए : क्या आप अपने क्रश को डेट के लिए पूछने पर हिचकिचा रहीं हैं ?

Email us at connect@shethepeople.tv