रिलेशनशिप में असमानता होना आम हो चुका है क्योंकि लोग ‘प्यार’ के आगे हर दूसरी चीज़ को नज़रंदाज़ कर देते हैं और जो लोग इक्वालिटी चाहते भी हैं उन्हें समझ नहीं आता कि ऐसा क्या करें जिससे पार्टनर को हर्ट किये बिना हम रिश्ते में अपना महत्व कायम कर लें। आपको समझना होगा कि ये 70 का दशक नहीं है जहाँ एक पार्टनर देवता होता था और एक दासी। साथी होने का मतलब ही है कि आप दोनों बराबर हैं, दोनों की उतनी ही एहमियत है इसलिए अपने रिलेशनशिप में प्यार के साथ इक्वालिटी को भी महत्व देने की पूरी कोशिश करिये। जानिए रिलेशनशिप में समानता कैसे लाएं

image

पढ़िये कि आप रिलेशनशिप में समानता कैसे ला सकते हैं

1. उन्हें अकेले फै़सले लेने का हक मत दीजिये

कई लड़के अपने पार्टनर की लाइफ़ से जुड़े फै़सले लेना अपना अधिकार समझते हैं। अगर आपके पार्टनर भी ऐसा ही सोचते हैं तो उनकी गलतफ़ेहमी दूर करिये। उन्हें बताइये कि अपनी ज़िंदगी के फै़सले आप ख़ुद लेंगी। हाँ, वो चाहें तो सलाह दे सकते हैं लेकिन उसे मानना है या नहीं, ये पूरी तरह से आप पर है। साथ ही अपने रिलेशनशिप से जुड़े फै़सलों में भी उनकी अकेले की मर्ज़ी मत चलने दीजिये, उसमें भी आप बराबरी से पार्टिसिपेट करिए।

2. अपनी नीड्स के बारे में खुल कर कहिये

लड़कियाँ अकसर रिश्तों में कंप्रोमाइज़ करती नज़र आती हैं। यदि आप अपने रिलेशनशिप में समानता चाहती हैं तो अपनी नीड्स को महत्व देना शुरू करिए, केवल उनकी ज़रूरतों का ही ख्याल मत रखिये। आप सेक्स के दौरान क्या चाहती हैं या उनसे क्या उम्मीदें रखती हैं, ये सब खुल कर बोलिए, इसमें शरमाने वाली कोई बात नहीं हैं। लड़कियों की भी नीड्स होती हैं और उनका पूरा होना भी उतना ही ज़रूरी है। उनकी ज़िम्मेदारी है कि वे आपके बारे में भी सोचें।

3. उनपर निर्भर मत बनिये

कभी कभार आर्थिक सहायता ले लेने में कोई बुराई नहीं है पर उन पर पूरी तरह से पैसों के लिए निर्भर मत होइए, वरना आप ख़ुद को ही बोझ की तरह देखने लगेंगी और हो सकता है उन्हें भी ये अच्छा ना लगे। इसके अलावा अपनी इमोशनल ज़रूरतों को पूरा करने के लिए भी केवल एक व्यक्ति पर निर्भर हो जाना ठीक नहीं है। अपने दोस्तों और परिवार के लोगों से भी रिश्ता मज़बूत करिए ताकि पार्टनर आपके ऊपर हावी ना होने लगें।

4. ख़ुद को लेकर कॉन्फ़िडेंट रहिये

आपका कॉन्फ़िडेंट होना ख़ुद के साथ-साथ रिलेशनशिप के लिए भी ज़रूरी है। अगर आपके अंदर आत्मविश्वास की कमी होगी तो चांसेस हैं कि आपके पार्टनर आपको मैनिप्युलेट करने की कोशिश करें। वो आप में कमी निकालते रहेंगे और आपको ख़ुद महान बनने की कोशिश करेंगे। इससे आपको लग सकता है कि वो आपसे ज़्यादा अच्छे हैं और आपसे बेहतर डिज़र्व करते हैं। ये आपके रिलेशनशिप में असमानता का कारण बनेगा।

5. उनके बुरे बर्ताव को मत सहिये

अगर वो आपका अपमान करते हैं या दूसरों के सामने मज़ाक उड़ाते हैं तो बिल्कुल बर्दाश्त मत करिये। उन्हें स्पष्ट रूप से समझाइये कि उन्हें भी आपको उतनी ही इज़्ज़त देनी होगी जितनी आप उन्हें देती हैं। रिलेशनशिप में बराबरी तभी आती है जब दोनों पार्टनर्स एक दूसरे की रिस्पेक्ट करें।

पढ़िये: क्या आप अपना Self-Confidence बढ़ाना चाहते हैं ? जानिए 6 तरीके

Email us at connect@shethepeople.tv