Remedies For Pyorrhea: दांतो मे होने वाले पायरिया को कैसे रोकें? जानिए ये 5 घरेलू उपचार

Remedies For Pyorrhea: दांतो मे होने वाले पायरिया को कैसे रोकें? जानिए ये 5 घरेलू उपचार Remedies For Pyorrhea: दांतो मे होने वाले पायरिया को कैसे रोकें? जानिए ये 5 घरेलू उपचार

SheThePeople Team

02 Nov 2021


Remedies For Pyorrhea: पायरिया एक मसूड़े की बीमारी है, जो दांतों और मसूड़ों दोनों को नुकसान पहुंचाती है, और पायरिया से पीड़ित व्यक्ति की सांस से दुर्गंध पैदा करती है। यह गंध पेशेंट और पेशेंट के संपर्क में आने वाले व्यक्ति के लिए असहनीय होती है। क्रोनिक पायरिया होने पर रोगी की पूरी त्वचा से दुर्गंध आने लगती है, जो मरीज और आसपास के लोगों के लिए और भी मुश्किल हो जाती है।

Remedies For Pyorrhea: पायरिया के लिए 5 घरेलू उपचार


1. नींबू का रस


नींबू के रस के एन्टीबॅक्टेरिअल गुणों के कारण, यह पायरिया से राहत पाने के लिए प्रभावी रूप से उपयोग किया जा सकता है। कच्चे नींबू के रस से मसूड़ों पर मालिश की जा सकती है, जिससे शुरुआत में जलन हो सकती है। हालांकि, पायरिया के उपचार से राहत पाने के लिए लंबे समय तक का इस्तेमाल प्रभावी हो सकता है।


2. सरसों का तेल


सरसों का तेल अपने उपचार गुणों के लिए जाना जाता है, और इसी कारण से इसे एक प्रभावी पायरिया उपचार के रूप में इस्तेमाल किया जा सकता है। सरसों के तेल में चुटकी भर नमक मिलाकर मसूढ़ों पर लगाने से दर्द में आराम मिलता है। इस मिश्रण को आप रात भर लगा सकते हैं, और नियमित रूप से इसका सेवन करने से मसूढ़ों के दर्द में निश्चित रूप से राहत मिलेगी।


3. तिल का तेल


पायरिया के लिए एक और सबसे अच्छा घरेलू उपाय है, तिल का तेल। आप तिल के तेल को लगभग 8-10 मिनट तक मुंह में रख सकते हैं और फिर उसे घुमाकर थूक दें। यह निश्चित रूप से राहत प्रदान करने वाले आपके सूजे हुए और खून बहने वाले मसूड़ों को शांत करने में मदद कर सकता है।


4. फलों के छिलके


दर्द से तुरंत राहत पाने के लिए आप विटामिन सी से भरपूर फलों के छिलकों को अपने दांतों और मसूड़ों पर मल सकते हैं। संतरे के छिलकों को लगाने से दांतों में विटामिन सी की परत जम जाती है, जिससे खून बहना बंद हो जाता है। इसके अलावा, केले के छिलके के अंदरूनी हिस्से को लगाने से मसूड़े सिकुड़ते हुए ठीक हो सकते हैं।


5. पायरिया के इलाज के लिए फिटकरी


पायरिया के इलाज के लिए फिटकरी भी जाना जाता है। पोटाश फिटकरी को भूनकर मसूढ़ों और दांतों पर लगाने से पायरिया के लक्षणों में राहत मिलती है। इसके अलावा, पोटाश फिटकरी के पानी से गरारे करने से भी मुंह के बैक्टीरिया से छुटकारा मिलता है।





अनुशंसित लेख