यंग मदर्स के लिए इंस्पिरेशन हैं सानिया मिर्ज़ा: जानिए कैसे रखती हैं खुद को मोटिवेटेड

यंग मदर्स के लिए इंस्पिरेशन हैं सानिया मिर्ज़ा: जानिए कैसे रखती हैं खुद को मोटिवेटेड यंग मदर्स के लिए इंस्पिरेशन हैं सानिया मिर्ज़ा: जानिए कैसे रखती हैं खुद को मोटिवेटेड

SheThePeople Team

15 Sep 2021


यंग मदर्स के लिए इंस्पिरेशन हैं सानिया मिर्ज़ा: हाल ही में सानिया मिर्ज़ा ने 2021 में हुए उनके कैम्पेन की बात करती हुईं नज़र आयीं। जहाँ टोक्यो ओलंपिक को सानिया और अंकिता रैना ने साथ में रिप्रेजेंट किया था। सानिया ने अपने इंटरव्यू में कहा कि वो काफी स्ट्रेट फॉरवर्ड तरीके से लाइफ को लेती हैं। उन्होंने अपने टोक्यो ओलंपिक के प्रदर्शन के बारें में भी बात की और मीडिया को बताया कि वो अपने प्रदर्शन से काफी खुश हैं। 

यंग मदर्स के लिए इंस्पिरेशन हैं सानिया मिर्ज़ा

इस बार का टोक्यो ओलंपिक 2021, सानिया मिर्ज़ा का चौथा ओलंपिक था। इस में सानिया ने टूर्नामेंट के फाइनल और सेमीफाइनल में अपनी जगह बनाई और वो इस बात से काफी खुश हैं। उन्होंने बताया कि अपने पिछले पर्फोमन्स से इस साल के परफॉरमेंस को वो खुद बेहतर मानती हैं और खुद को निखारने के लिए दिन-ब-दिन मेहनत कर रहीं हैं।

मोटीवेट कैसे रहा जाये इस पर सानिया अपने बच्चे का हवाला देते हुए कहती हैं कि जो औरत माँ का दायित्व निभा सकती है, वो सब कुछ कर सकती हैं। ओलंपिक में सानिया ने भारत का प्रतिनिधित्व किया और इस बात को लेकर वो काफी संतुष्ट दिखीं। माँ और एक एथलीट की ज़िम्मेदारी सानिया बखूबी निभा रहीं हैं, इस बारें में सवाल पूछने पर सानिया ने बताया कि माँ और एक प्रोफेशनल एथलीट की जिम्मेदारी भले ही थोड़ी चुनौतीपूर्ण होती हैं,लेकिन इसमें संतुष्टि ज्यादा है।

माँ बनने के साथ कई ज़िम्मेदारियाँ आजाती हैं, वहीं दूसरी और इंडिया को रिप्रेजेंट करने वाली खिलाडी अपनी निजी जिंदगी को कैसे बैलेंस करती हैं और अपने माँ होने के कर्त्तव्य को निभाते हुए अपने प्रोफ़ेशनल वर्क को कैसे संभालती हैं, इस बात का उदाहरण सानिया मिर्ज़ा खुद हैं।

सानिया उन हर लड़कियों को मोटीवेट करती हैं जो शादी के बाद या माँ बनने के बाद अपने करियर और अपने सपनों को छोड़ देती हैं और उन्हें भूल जाती हैं। सानिया का कहना है कि सपने की कोई सीमा नहीं होती बल्कि उसे पाने की चाह जितनी ज्यादा हो अपने उतने ही आसानी से पूरे हो जाते हैं।

सानिया ने कहा, "मैं वास्तव में नकारात्मक लोगों की परवाह नहीं करती, लेकिन मैं हर उस लेडी को जो मां बनना चाहती हैं ये बता देना चाहती हूँ कि अगर आप अपना दिमाग लगाएं और अपने सपनों के पीछे भागें तो आपको कोई नहीं रोक सकता।" 

 


अनुशंसित लेख