माँ और बेटी एक दूसरे के बेहद करीब होते हैं। हर लड़की को माँ के साथ, अपनी बातें साझा करना बेहद पसंद होता है। पर कई बार कुछ विषयों पर, इस रिश्ते में संकोच आ जाता है। अमूमन यह विषय सेक्स और प्रेगनेंसी से जुड़ा होता है। माँ और बेटी के बीच का यह संकोच, उन्हें इस विषय पर बात करने से रोक देता है। पर बेटी से Sex और Pregnancy से जुड़ी बातें करनी ज़रूरी हैं

क्यों जरूरी है, माँ और बेटी के बीच सेक्स और प्रेगनेंसी से जुड़ी बातें ?

लड़कियाँ अपनी किशोरावस्था में पहुँचती है, तो उनके मन में तमाम तरह के सेक्स और प्रेगनेंसी से जुड़े सवाल घूमते है। और संकोच के कारण वो माँ से न पूछकर, इंटरनेट का सहारा लेती है। और इंटरनेट से मिली कुछ सही कुछ गलत जानकारियाँ ही, इन लड़कियों के सारे प्रश्नों का हल बनती है।

जानकारियों की कमी के कारण, किशोर लड़कियों में हो रही प्रेगनेंसी के बढ़ते आकड़े सामने आते हैं तो मामले की जटिलता और ज्यादा समझ आती है। तब समझ आने लगता है कि आज इस विषय में माँ बेटी के बीच बात होना कितना जरूरी है।

  • माँ का किशोर लड़कियों को सेक्स और प्रेगनेंसी के बारें में बताना बेहद जरूरी है ताकि लड़कियाँ खुद को किसी भी मुश्किल हालातों मे न फंसा पाएँ।
  • माँ और बेटी के बीच, इस विषय में बात होने से दोनों के बीच का रिश्ता और गहरा व मजबूत बनेगा।
  • जब इस विषय में माँ-बेटी के बीच खुलकर बात होगी, तब जाकर लड़कियों के दिमाग से इस विषय से जुड़ी तमाम कल्पनाएँ शांत हो पाएंगी।
  • अगर माँ इस विषय में अपनी बेटी को समझाएंगी तो लड़कियों को सही व सटीक जानकारियाँ मिलेंगी।
  • सेक्स और प्रेगनेंसी पर माँ-बेटी के बीच बात होने से, इस विषय से जुड़े तमाम मिथ (myth) दूर होंगे और लड़कियों को सही जानकारी के साथ आत्मविश्वास मिलेगा।

पढ़िए : क्या आपके पीरियड्स टाइम पर नहीं आते ?

Email us at connect@shethepeople.tv