आजकल के स्त्री और पुरुष दोनों के ही शादी को लेकर विचार बदल गए हैं। इसी के साथ उनकी शादी से कल्पनाएं, अपेक्षाएं आदि बहुत ही अलग-अलग है। अब पुराने जमाने वाली बात नहीं रही है जहां लड़के और लड़कियां ये सोच रखते थे कि शादी का मतलब है एक हैप्पी एंडिंग। जिसके बाद वे हमेशा के लिए खुशी-खुशी रहेंगे। बहुत ही कम लोग आज ऐसे होंगे जो इस तरह की सोच या मानसिकता को रखते हैं।शादी – साथी

जानिए की सही मायने में शादी से लोग क्या चाहते हैं

1) शादी एक साझेदारी 

ज्यादातर लड़के और लड़कियों का शादी को लेकर आज मतलब है ‘साझेदारी’। एक ऐसे साथी की खोज जो न सिर्फ़ आपके माता-पिता और सोसाइटी के द्वारा अप्रूव किया गया हो लेकिन एक ऐसा साथी जो आपकी सारी अपेक्षाओं पर खरा उतरे और आपकी सारी आकांक्षाओं को पूरा करने की इच्छा भी रखता हो। आज की लड़कियों को घोड़े पर सवार कोई राजकुमार नहीं चाहिए।

2) ऐसा पार्टनर जो हमेशा साथ दे

लड़के और लड़कियों को तो बस चाहिए एक ऐसा साथी जो कंधे से कंधा मिलाकर उनके साथ चलने में गर्व महसूस करता हो। वे एक ऐसे साथी की तलाश में हैं जो हर मुश्किल में उनका साथ दे, जो कभी उन्हें अकेला न महसूस होने दे, 

3) घरेलू कामों में मदद शादी – साथी

आजकल की लड़कियां चाहती है कि जब शादी के बाद वे जॉब करें, तो घर का सारा काम सिर्फ़ उन्हीं के जिम्मे नहीं आए। वें चहती हैं एक ऐसा साथी जो उनके घर के काम करने में मदद करता हो, हाथ बटांता हो। जो बच्चों की परवरिश को अपनी भी रिस्पांसिबिलिटी समझता हो और इन कामों के लिए समय भी निकलता हो। शादी – साथी

4) रिस्ट्रिक्शंस न लगाए

आज हर कोई चाहेगा की शादी के बाद उनके जीवन जीने के तरीके में कोई बदलाव ना आए। लड़का और लड़की ये अपेक्षा रखते हैं कि उन्हें शादी के बाद किसी और के लिए खुद को बदलना न पड़े। इसलिए वे एक ऐसा पार्टनर चाहते हैं जो उनके जीवन पर, रहन-सहन पर या उनके विचारों पर किसी भी प्रकार की कोई लगाम न लगाएं। सभी को अपने तरीके से जीने का हक होना चाहिए।

5) इज़्जत करता हो

आजकल सभी एक ऐसा साथी चाहते हैं जो उनकी मेहनत, काम और कमाई तीनों की उतनी ही इज़्जत करें, जितना की वे अपनी करता हो। दोनों में से किसी को भी खुद को ज्यादा महत्व नहीं देना चाहिए। एक दूसरे की ओपिनियंस और विचारों का सपोर्ट करना चाहिए। एक लड़की को चाहिए कि उसका पति भी उसकी कमाई  पर गर्व करे।

Email us at connect@shethepeople.tv