देशभर में वायरल फीवर का कहर: फिरोजाबाद के बाद अब बिहार और हरियाणा भी हुए इसके शिकार

देशभर में वायरल फीवर का कहर: फिरोजाबाद के बाद अब बिहार और हरियाणा भी हुए इसके शिकार देशभर में वायरल फीवर का कहर: फिरोजाबाद के बाद अब बिहार और हरियाणा भी हुए इसके शिकार

SheThePeople Team

14 Sep 2021


देशभर में वायरल फीवर का कहर: कोरोना संक्रमण के बीच एक नयी बीमारी ने दस्तक दे दी थीं। यूपी के फ़िरोज़ाबाद और मथुरा में इस वायरल फीवर से कई मौत के मामले सामने आये हैं। लेकिन ये बीमारी थमने का नाम ही नहीं ले रही है। संक्रमण से फैलने वाली इस खतरनाक वायरल बुखार ने अब पुरे भारत में आने पैर पसार लिए हैं। फ़िरोज़ाबाद से शुरू हुई ये बीमारी, अब बिहार और हरियाणा के ज़िलों में अपना कहर बरपा रही है। 

देशभर में वायरल फीवर का कहर

वायरल फीवर अब सिर्फ मथुरा या फ़िरोज़ाबाद तक सिमित नहीं रह गया है, बल्कि इसने धीरे-धीरे पुरे भारत में अपने पैर पसारना शुरू कर दिया है। हरियाणा से लेकर बिहार तक में इस फीवर से न जाने कितने लोगों की मौतें हो चुकी हैं।

पूर्वी यूपी के बलिया जिले में पिछले 10 दिनों में डेंगू जैसे लक्षणों के साथ वायरल बुखार के मामले बढ़े हैं। प्रयागराज में रविवार को 170 बच्चों को वायरल फीवर के साथ मोतीलाल नेहरू अस्पताल में भर्ती कराया गया है और इनमें से कई मरीजों को ऑक्सीजन सपोर्ट की जरूरत है. वाराणसी और बस्ती से भी वायरल फीवर के मामले सामने आए हैं।

हरियाणा के पलवल जिले के मिर्च गांव में पिछले 10 दिनों में वायरल फीवर ने आठ बच्चों की जान ले ली है। बुखार में अचानक प्लेटलेट्स कम होने लगते हैं, जिससे डेंगू होने का शक पैदा होता है। लेकिन वायरल फीवर के लक्षण डेंगू से मिलते जुलते हैं, इसीलिए इसमें सावधानी बरतने की खास जरुरत है।

कोरोना महामारी के बीच अब बिहार में भी इस वायरल फीवर का प्रकोप देखा गया है। पटना में कई बच्चे इस खतरनाक बीमारी की चपेट में आ चुके हैं। सर्दी, खांसी और तेज़ बुखार की समस्या लेकर कई बच्चों के माता-पिता हॉस्पिटल के चक्कर काट रहें हैं। आलम यह है कि पटना के कई अस्पताल में शिशु वार्ड पूरी तरह से भर चूका है, इसके बावजूद भी मामले थम नहीं रहे।  


अनुशंसित लेख