Vagina Pain: क्या आपको भी है वजाइना में दर्द, तो जानिए इसका कारण 

Vagina Pain: क्या आपको भी है वजाइना में दर्द, तो जानिए इसका कारण  Vagina Pain: क्या आपको भी है वजाइना में दर्द, तो जानिए इसका कारण 

SheThePeople Team

14 Dec 2021


Vagina Pain:  वजाइना हमारी बॉडी का एक बहुत ही महत्वपूर्ण और सेंसिटिव एरिया है। वजाइना को लेकर किसी भी तरह की लापरवाही, भारी पड़ सकती है। मेंस्ट्रुअल दर्द हर लड़की को होती है, लेकिन पीरियड्स के दौरान अगर आपको डिस्कॉमफर्म होता है तो यह आम बात है लेकिन अगर डिस्कॉमफर्ट से ज्यादा आपको दर्द महसूस हो रहा है तो यह एक चिंता का विषय है। वजाइना में दर्द सिर्फ पीरियड्स के समय यां पीरियड्स की वजह से नहीं होता। इसके कई कारण हैं जो आज आपको यहां बताए जा रहे हैं। 

वजाइना में दर्द होने के 5 कारण: Vagina Pain


1. बार्थोलिन सिस्ट (Bartholin Cyst)

बार्थोलिन सिस्ट, तब डेवलप होते हैं जब वजाइना लुब्रिकेशन के लिए जिम्मेदार बार्थोलिन ग्रंथियां ब्लॉक हो जाती हैं। इसके बाद वजाइना के साइड में एक गांठ बन जाती है। इस गांठ में पस भरने लगती है और इन्फेक्शन के साथ दर्दनाक होती जाती है। बार्थोलिन सिस्ट की वजह से सेक्स के समय और चलने-बैठने के समय दर्द होने लगता है। इसके इलाज के लिए डॉक्टर की सलाह लें और हमेशा गरम पानी से स्नान करें।

2. एंडोमेट्रियोसिस (Endometriosis)

एंडोमेट्रियोसिस तब होता है जब यूटरिन की लाइनिंग, पेल्विक के किसी और एरिया में बढ़ने लगती है। इसकी वजह से वजाइना में दर्द होने लगता है। इसका इलाज जल्द से जल्द होना चाहिए क्योंकि इसमें बाकी की बॉडी में फलने का खतरा होता है। एंडोमेट्रियोसिस की हालत में ज्यादा दर्द पीरियड्स, सेक्स करते हुए होता है और यह इनफर्टिलिटी का कारण भी बन सकता है। इसके कुछ लक्षण है, पेनफुल मल त्याग, पेनफुल यूरिनेशन, कब्ज, लूज मोशन, आदि। 

3. वल्वोडायनिया (Vulvodynia)

अगर आपको वल्वोडायनिया और आपको लगातार 3 महीने से वजाइना में दर्द हो तो आपको डॉक्टर को तुरंत दिखाना चाहिए। वजाइना में दर्द, जलन, चुभन और खुजली वल्वोडायनिया के कुछ लक्षण हैं। वल्वोडायनिया आपको काफी प्रभावित कर सकता है, आप इंटरकोर्स नहीं कर पाएंगे, आप  कुछ प्रकार के कपड़े नहीं पहन पाएंगे आदि इमोशनल डिस्ट्रेस हो सकता है। 

4. वुल्वर इन्फेक्शन (Vulvar Infection)

वजाइना में दर्द का कारण इन्फेक्शन भी हो सकता है। यीस्ट और दाद की वजह से वुल्वर इन्फेक्शन हो सकता है। इसमें सूजन, खुजली, दर्द हो सकती है खासकर सेक्स और पेशाब करते समय। इससे बचने के लिए वजाइना की साफ सफाई रखे और वजाइना को हमेशा ड्राई रखना चाहिए और आपको ज्यादा तकलीफ हो तो डॉक्टर की सलाह जरूर लें।

5. पेल्विक फ्लोर प्रोब्लम (Pelvic Floor Problem) 

पैल्विक असुविधा भी दर्दनाक इंटरकोर्स और आंत्र रोग का कारण बन सकती है। पेल्विक फ्लोर की समस्या का एक कारण लेवेटर स्पाज्म, जहां पेल्विक फ्लोर की मसल्स में ऐंठन अन्य प्रकार के दर्द के रूप में होती है। पैल्विक कंजेशन सिंड्रोम और पुडेंडल तंत्रिका की जलन, पेल्विक में दर्द का कारण बन सकता है। अगर आपको कोई भी तकलीफ हो तो तुरंत ही डॉक्टर को सलाह लें। 



Disclaimer: यह सार्वजनिक रूप से एकत्रित जानकारी है। यदि आपको किसी विशिष्ट सलाह की आवश्यकता है तो कृपया डॉक्टर से परामर्श करें।






अनुशंसित लेख