गायनेकोलॉजिस्ट महिलाओं के जीवन में बहुत बड़ा रोल प्ले करते है। ना सिर्फ प्रेगनेंसी बल्कि आपके पूरे रिप्रोडक्टिव सिस्टम से रिलेटेड या आपके सेक्स लाइफ से रिलेटेड कोई भी परेशानी हो तो आप सबसे पहले अपने गायनेकोलॉजिस्ट से संपर्क करते है। इसलिए ये बहुत ज़रूरी है की जो आपके गायनेकोलॉजिस्ट है उनके साथ आप कम्फ़र्टेबल महसूस करती हो क्योंकि उन्हें आपकी सबसे प्राइवेट बातें पता होती है। अगर आपको इन में से कोई भी बात महसूस हो तो इसका मतलब है की अब आपको अपनी गायनेकोलॉजिस्ट को चेंज कर लेना चाहिए:

1. आप अपने गायनेकोलॉजिस्ट के साथ अब कम्फ़र्टेबल फील नहीं करती है

आपको अपने गायनेकोलॉजिस्ट के साथ बहुत ज़्यादा समय बिताना पड़ता है इसलिए ये बहुत ज़रूरी है आप उनके साथ कम्फ़र्टेबल फील करती हो। अगर आपके गायनेकोलॉजिस्ट के मानेरिस्म या उनके बात करने के तरीके में बदलाव आया है और आपको ये असहज कर रहा है तो गायनेकोलॉजिस्ट बदलने में कोई बुराई नहीं है।

2. आपकी गायनेकोलॉजिस्ट को आपकी मेडिकल हिस्ट्री याद नहीं

जितना ज़रूरी आपके लिए एक डॉक्टर है उतना ही ज़रूरी उसके लिए आप होनी चाहिए। विशेष कर की गायनेकोलॉजिस्ट जिन्हें हम ना सिर्फ अपना शरीर बल्कि अपने बच्चे की सलामती भी सौंप रहे है। ऐसे में अगर आपकी गायनेकोलॉजिस्ट को आपके मेडिकल हिस्ट्री और कंडीशंस ठीक से याद नहीं है तो वक़्त आ गया है की आप अपनी गायनेकोलॉजिस्ट को बदल ले।

3. आपकी गायनेकोलॉजिस्ट आपके सवालों को टाल दे रही है

एक डॉक्टर का सबसे पहला काम होता है अपने पेशेंट के हर सवाल का जवाब देना। इसलिए अगर आपकी गायनेकोलॉजिस्ट आपके सवालों को टाल दे रही है या फिर आपको उसके बारे में इंटरनेट में देखने को कह रही है तो ये गलत है। ऐसे सिचुएशन में गायनेकोलॉजिस्ट बदल लेने में ही भलाई है।

4. आपकी गायनेकोलॉजिस्ट आपको बेकार के टेस्ट्स करवाने कहती है

अगर आपकी गायनेकोलॉजिस्ट आपको ज़रूरत से ज़्यादा टेस्ट्स करवाने के लिए कहती है तो सावधान हो जाइए। ऐसे बेकार के टेस्ट्स करवाने से आपकी एंग्जायटी लेवल में भी इजाफा हो सकता है। ये एंग्जायटी आपको स्ट्रेस दे सकती है जो आपके बॉडी के लिए किसी भी सिचुएशन में सही नहीं है। अगर आपकी गायनेकोलॉजिस्ट आपको ऐसे टेस्ट्स के लिए बार-बार कहे तो अपनी गायनेकोलॉजिस्ट बदल ले।

5. आपकी गायनेकोलॉजिस्ट आपकी बात नहीं सुनती है

एक डॉक्टर के हिसाब से पेशेंट की सारी बातें और उसकी फीलिंग्स को ध्यान में रखना बहुत ज़रूरी है। अगर आपकी गायनेकोलॉजिस्ट हर विषय पर बस अपनी राय ही देती रहे और आपकी बात ना सुने या फिर सुन कर भी उसको ज़्यादा तवज्जो ना दे तो इससे आपके बॉडी के लिए खतरा बढ़ सकता है। ऐसे सिचुएशन में आपको अपनी गायनेकोलॉजिस्ट बदल लेनी चाहिए।

Email us at connect@shethepeople.tv