Who is Mahima Datla ?  पूरे भारत में अभी वैक्सीन को लेकर चर्चा चल रही है क्योंकि वैक्सीनेशन की प्रक्रिया अभी जोरो शोरों पर है। अभी तक सिर्फ 3 नाम चर्चा में थे कोवाक्सिन, कोविदशील्ड और स्पुतनिक वी लेकिन अब Corbevax Vaccine। Corbevax Vaccine का अभी इंडिया में फेज 3 ट्रायल चल रहा है। कहा जा रहा है कि ये सबसे सस्ती वैक्सीन होगी और सरकार ने इसके पहले से ही 300 मिलियन दोसेस बुक कर दिए हैं। ये बायोलॉजिकल E द्वारा manufacture की जा रही है।

महिमा ने Corbevax वैक्सीन में क्यों योगदान दिया ?

हालांकि उन्होंने कंपनी में शामिल होने की कभी योजना नहीं बनाई, लेकिन उन्होंने न केवल कॉर्बेवैक्स बल्कि अन्य टीकों और उपचारों की हेल्मिंग प्रक्रिया में भी प्रमुख योगदान दिया है। एक प्रमुख दैनिक के एक लेख में, 43 वर्षीय चिकित्सा निदेशक ने खुलासा किया कि फार्मा दिग्गज में शामिल होने के लिए उनकी एकमात्र प्रेरणा दुनिया के सबसे गरीब हिस्सों में जीवन रक्षक दवाएं और टीके उपलब्ध कराने का कंपनी का उद्देश्य था।

महिमा से जुडी कुछ बातें –

दतला ने ब्रिटेन के उल्लेखनीय वेबस्टर विश्वविद्यालय से बिजनेस एडमिनिस्ट्रेशन में डिग्री हासिल की है और बाद में, वह अपने पारिवारिक व्यवसाय में शामिल हो गई, जिसके कारण उसने “रिज्यूमे पर अच्छा दिखने” का दावा किया।

क्यों है Corbevax Vaccine इतनी ख़ास ?

Corbevax को भारत में COVID-19 के लिए उपलब्ध सबसे सस्ता वैक्सीन कहा जाता है, जो वैक्सीन की दोनों खुराक के लिए लगभग 500 रुपये में उपलब्ध है। द टाइम्स ऑफ इंडिया के मुताबिक, दोनों डोज की कीमत 400 रुपये से भी कम हो सकती है। वैक्सीन की अंतिम कीमत अभी तय नहीं हुई है।

बायोलॉजिकल ई के अनुसार, कॉर्बेवैक्स के अधिकांश तत्व सस्ते और आसानी से मिल जाने वाले होते हैं, जो इसे जारी होने के बाद संभवतः COVID-19 के सबसे सस्ते टीकों में से एक बनाते हैं। ये वैक्सीन इंडिया में गेम चेंजर भी हो सकती है और काफी प्रभावकारी साबित हो सकती है।

Email us at connect@shethepeople.tv