त्रिनेत्रा हलदार गुम्माराजु कौन हैं? सोशल मीडिया का इस्तेमाल कर ट्रांजेंडर के लिए बनीं मिसाल

त्रिनेत्रा हलदार गुम्माराजु कौन हैं? सोशल मीडिया का इस्तेमाल कर ट्रांजेंडर के लिए बनीं मिसाल त्रिनेत्रा हलदार गुम्माराजु कौन हैं? सोशल मीडिया का इस्तेमाल कर ट्रांजेंडर के लिए बनीं मिसाल

SheThePeople Team

25 Nov 2021

त्रिनेत्रा हलदार एक सर्जन हैं और यह सोशल मीडिया पर काफी फेमस हैं। यह खुद एक ट्रांजेंडर कम्युनिटी से आती हैं और हमेशा से इनके हक़ के लिए लड़ाई लड़ती आयी हैं। इनका कहना है कि इन्होंने ट्रांसजेंडर होने की वजह से बचपन से ही बहुत कुछ झेला है।

सोशल मीडिया का इस्तेमाल कर ट्रांजेंडर के लिए बनीं मिसाल

त्रिनेत्रा ट्रांसजेंडर कम्युनिटी की सेक्सुअलिटी के बारे में भी बात करती हैं कि उनके लिए खुलकर लोगों के सामने आना और अपनी सेक्सुअलिटी के बारे में बात करना कितना मुश्किल होता है। त्रिनेत्रा ने खुद की विदेश से जेंडर कन्फर्मेशन सर्जरी करवाई है। इनका कहना है कि सर्जरी के बाद हो या पहले एक ट्रांसजेंडर को लोग जिस तरीके से देखते हैं उसको बदलने की जरुरत है। इन्होंने इस मुद्दे को सभी के सामने रखा है और आज लोग इस बारे में सोचते हैं और बात करते हैं।

त्रिनेत्रा हलदार गुम्माराजु कौन हैं?

त्रिनेत्रा बेंगलुरु से हैं और यह इनके स्टेट कर्नाटक की पहली ट्रांजेंडर डॉक्टर बनीं हैं। यह बचपन से ही अपने आपको एक लड़का समझती थीं। इनका कहना है कि यह कभी कभी अपनी माँ कि साड़ी पहकर और मेकअप करके घूमती थीं। शुरू में तो परिवार वाले इन्हें क्यूट कहा करते थे लेकिन जब यह बड़ी हुई तो धीरे धीरे इन्हें इन सब चीज़ों के लिए रोका जाने लगा। इनके इंस्टाग्राम पर 220k फॉलोवर्स हैं और यह अपनी लाइफ से जुड़ी सभी चीज़ें सोशल मीडिया पर शेयर करती हैं।

Trinetra SheThePeople Interview 

हमारे चैनल शी द पीपल से बात करते वक़्त त्रिनेत्रा ने बताया कि ट्रांसजेंडर होने के बाद अपनी सेक्सुअलिटी को ढूढ़ना बहुत मुष्किल होता है। एक ओर आपको बहुत ज्यादा अटेंशन मिलती है और लोग आपके बारे में बहुत कुछ इमेजिन करते हैं क्योंकि हम न ही लड़का है और न ही लड़की। वहीँ दूसरी ओर हमको अचानक से कलंक की तरह ट्रीट किया जाता है ओर लोग हमसे दूर भागते हैं। ऐसा माहौल मेन्टल हेल्थ के लिए भी अच्छा नहीं होता है।

इन्होंने ट्रांसजेंडर को जिस तरीके के पोर्न में दिखाया जाता है उसको लेकर भी अप्पति जताई ओर कहा कि हमें सिर्फ एक सेक्स ऑब्जेक्ट की तरह ट्रीट किया जाता है।

 







अनुशंसित लेख