"खुदकी तुलना दुसरो से करना" किसी भी महिला को ये 5 बातें नहीं करनी चाहिए

"खुदकी तुलना दुसरो से करना" किसी भी महिला को ये 5 बातें नहीं करनी चाहिए "खुदकी तुलना दुसरो से करना" किसी भी महिला को ये 5 बातें नहीं करनी चाहिए

SheThePeople Team

23 Sep 2021


हम सब को जीवन में प्रेम / प्यार की जरूरत होती है। फिर भी हम अक्सर खुद से प्यार करना, खुद के लिए समय निकालना भूल जाते हैं। आपको अपनी खुशियां खुद ढूंढनी होगी और उसके लिए लड़ना होगा क्योंकि आपकी खुशी के लिए कोई भी जिम्मेदार नहीं है। उन छोटी-छोटी बातों पर ध्यान देना शुरू करना होगा, जिन्हें आप नज़रअंदाज़ कर रहे थे। एक व्यक्ति दूसरों से तभी प्यार कर सकता है जब वो पहले खुद से प्यार करता हो। महिलाएं अक्सर दूसरो की खुशियों के आगे अपनी खुशियों को अनदेखा कर देती हैं। इसलिए यहां बताया गया है, महिलाओं को क्या नहीं करना चाहिए अगर वो करती हैं खुद से प्यार। 

5 बातें जो महिलाओं को नहीं करनी चाहिए: Why women always do this


1. खुद की तुलना करना

हम अक्सर खुद की तुलना दूसरों से करते हैं। ये जानते हुए की हर इंसान अलग है और उसके अंदर की खूबी, खामियां, भी अलग हैं। लोग हमेशा एक कि तुलना दूसरे से करेंगे लेकिन सबसे जरूरी है कि हम खुद अपनी तुलना दूसरे से ना करें। अगर हम ऐसा करते हैं तो इसका मतलब है कि हमें खुद पर यकीन और भरोसा नहीं है और हम अपने आप को कभी एहमियत नहीं दे पाएंगे।

2. खुद पर सख्त होना

कभी-कभी महसूस किए बिना आप खुद पर बहुत सख्त हो सकते हैं। अपने आप पर बहुत अधिक कठोर / सख्त होने से आप मानसिक और शारीरिक तनाव महसूस कर सकते हैं। हम सब हर चीज में परफेक्ट नहीं होते इसलिए अपनी कमियों और खामियों को अपनाएं और उन को सुधारने की कोशिश करें बिना अपने आप को किसी प्रकार का मेंटल स्ट्रेस दिए। 

3. छुट्टी या ब्रेक ना लेना

जीवन बहुत छोटा है इसलिए हमे हर पल का आनंद लेना चाहिए। हम अपने काम में इतना व्यस्त हो जाते हैं कि हम अक्सर अपने आप को समय ही नहीं दे पाते। हम सब जीवन में उस लाइफस्टाइल, उस मुकाम को हासिल करना चाहते हैं जिसका सपना हमने बचपन से देखा है लेकिन इस बीच अपनी सेहत का सैक्रीफाइस ना करे। हर पल कीमती होता है लेकिन ब्रेक लेना आपके दिमाग और शरीर के लिए बहुत जरूरी है। 

4. आप हर चीज के लिए माफी मांगते हैं

महिलाएं अक्सर हर छोटी-छोटी बातो के लिए माफी मांगती हैं। इसका एक कारण ये भी है कि हम दूसरे को बुरा मेहसून नहीं करना चाहते इसलिए आप खुद बुरा मेहसूस कर लेते हैं और उस चीज़ के लिए माफी मांग लेते हैं। माफी मंगने में कोई बुराई नहीं है लेकिन हर चीज़ के लिए अपने आप को दोषी ठेराना भी सही नहीं है इससे आपका आत्मसम्मान कम हो जाता है। 

5. आप गलतियों के लिए खुद को जज करती हैं

कोई भी परफेक्ट नहीं होता। हर व्यक्ति जीवन में गलतियां करता है कभी छोटी और कभी बड़ी। लेकिन इसका ये बिल्कुल नहीं है कि आप जीवन में कुछ नहीं कर सकते। उन गलतियों से सिखना और उन्हें दुबारा ना दोहराना आपको जीवन में आगे बढ़ने में मदद करेगा। गलतियों के बाद ये बिल्कुल नहीं बोलना चाइए की, ' मैं किसी लायक नहीं हूं ' इसे आपका मनोबल कम होगा। 

आपको बस खुद पर भरोसा करना है और खुद के लिए अपने ऊपर काम करे। और जब आप पीछे मुड़कर देखेंगे तो आपको खुद पर बहुत गर्व होगा। साथ ही अपने आप से प्यार करना बहुत जरूरी है। 


अनुशंसित लेख