आज की भाग दौड़ भरी  ज़िन्दगी में कई लोगों की याददाश्त कमज़ोर होती जा रही है।  लोग अक्सर छोटी बड़ी बातें जल्दी भूल जाया करते हैं।  यह कमज़ोर याददाश्त की निशानी है।  इंसानी मेमोरी, कंप्यूटर से भी तेज़ होती है पर हम इसका ठीक से इस्तेमाल करना भूल  गए हैं। पर इसे कुछ घरेलू तरीकों से ठीक भी  किया जा सकता है। याददाश्त बढ़ाने के तरीके

याददाश्त बढ़ाने के तरीके -:

1 ) नियमित रूप से मैडिटेशन –

मैडिटेशन करने से हमारे दिमाग का तनाव काम होता है और एकाग्रता बढ़ती है , जब हमारा दिमाग तनाव मुक्त रहता है तोह वह अच्छे से और तेज़ काम करता है। हम छोटी-छोटी चीज़ों पर भी अच्छे से फोकस कर पाते हैं और जल्दी उन्हें भूलते नहीं। रोज़ बस 10 मिनट भी मैडिटेशन करना काफी है।

2 ) बेहतर सोएं –

मानसिक रूप से स्वस्थ रहने के लिए और याददाश्त बढ़ाने के लिए पूरी नींद लेना बहुत आवश्यक है। हमें 7 से 8  घंटों की नींद लेना अनिवार्य से ,इससे हमारे शरीर और दिमाग दोनों को आराम मिलता है और वो अच्छे से काम कर पाते हैं।

3 ) व्यायाम और एक्सरसाइज करना –

जब हम व्यायाम करते हैं तो सिर्फ फिजिकली ही नहीं बल्कि मेंटली भी फिट रहते हैं।  20 से 30 मिनट  व्यायाम करने से हमारे शरीर में रक्त का संचार बढ़ जाता है और दिमाग के काफी पार्ट्स एक्टिव हो जाते हैं और तेज़ काम करते हैं।

4  ) कुछ हेल्दी फूड्स डाइट में लें-

अखरोट और बादाम के साथ – सेब और ब्लैक बेरीज भी काफी कार्यगर हैं याददाश्त बढ़ाने के लिए  इनमे कई बायोएक्टिव तत्व मौजूद होते हैं जो याददाश्त को बढ़ाते हैं ।

5 ) सिगरेट, शराब से दूर रहें-

रिसर्च में सामने आया है की सिगरेट और शराब पीने वाले लोगों की तुलना में नहीं पीने वाले लोगों की याददाश्त ज्यादा अच्छी है। यह हमारे शरीर में टॉक्सिक तत्वों को बढ़ा देते हैं और फिजिकली और मेंटली हमारे शरीर को नुक्सान पहुंचाते हैं।

Email us at connect@shethepeople.tv