अगर आप भी यही सोचते हैं कि योगासनों का मतलब शरीर के आड़े-टेढ़े पोज़ हैं, जिन्हें करना बहुत कठिन है, तो आपको योगासनों के बारे में और ज्यादा जानने की जरूरत है। दुनिया के तमाम रिसर्च और अध्ययनों में ये साबित हो चुका है कि लगातार योगासन करने से शरीर स्वस्थ रहता है और जीवनशैली से जुड़ी बीमारियां जैसे- हाई ब्लड प्रेशर, डायबिटीज, हार्ट अटैक आदि के खतरे को कम करता है। इसके अलावा योगासन से शरीर लंबे समय तक बूढ़ा नहीं होता है। आइए आपको बताते हैं योगासनों के फायदे yog ke fayde

image

योग रक्त संचार में सुधार लाता है

योग और श्वास-तकनीकों के जरिए आप शरीर में रक्त के संचार (ब्लड सर्क्युलेशन)को बेहतर बना सकते हैं। ब्लड सर्क्युलेशन बढ़िया हो तो आपके शरीर के अंगों तक ऑक्सीज़न पहुंचने में दिक्कत नहीं होती और आपकी त्वचा भी दमकती रहती है।

फ्लेक्सिबिलिटी बढ़ाये

जोड़ों, हड्डियों या मांसपेश‍ियों की बीमारियों से जूझ रहे लोगों के लिए योग बहुत मददगार साबित हो सकता है। योग हमारे मांसपेशीय ढांचें को मजबूती प्रदान करता है। इससे हमारे शरीर में अध‍िक लचीलापन आता है। हम बेहतर काम कर सकते हैं। हमारी पकड़ मजबूत होती है। चोट लगने के खतरे भी कम हो जाते हैं। योग हमारे शरीर के लिए बहुत अच्छा व्यायाम है। इससे पूरे शरीर की मांसपेश‍ियों की कसरत हो जाती है। इससे हमारा शरीर अध‍िक मजबूती से काम करता है।

संतुलन बनाने में योग सहायक सिद्ध हुआ है

आपके गलत पॉस्चर से आप धीरे-धीरे बैलेंस नहीं कर पाते और छिटपुट हादसों का शिकार हो जाते हैं। अचानक कहीं गिर जाना, फ्रैक्चर, बैक पेन कई बार बैलेंस न पाने के कारण भी हो जाता है। योग बैलेंस बनाने में काफी सहायक होता है।

तनाव कम करे योग

अपने हेक्टिक शेड्यूल के बाद जब आप योगाभ्यास करेंगे तो महसूस करेंगे जैसे सारा तनाव धीरे-धीरे खत्म हो गया। कोई भी एक्सर्साईज अगर मन लगाकर की जाए और श्वास क्रियाओं को सही ढंग से दोहराया जाए तो तनाव से राहत अवश्य मिलेगी।

गर्भावस्था में फायदेमंद योग

गर्भावस्था में योग बहुत फायदेमंद होता है। यह आपको फिट रखने में मदद करता है। योग थकान और तनाव को दूर करने में मदद करता है। इससे मांसपेश‍ियों को भी शक्ति मिलती है। यह पाचन क्रिया को संतुलित करता है। इसके साथ ही यह नर्वस सिस्टम को भी सही रखता है। योग से प्रेग्नेंसी के दौरान आने वाली समस्याएं जैसे अनिद्रा, बैक पेन, पैरों में दर्द की समस्या में भी राहत मिलती है। लेकिन, गर्भावस्था में डॉक्टर से पूछे बिना योग करने के आपको नुकसान भी हो सकते हैं।

योग एकाग्रता (फोकस) बढ़ाये

यदि आपका मस्तिष्क शांत है, तो आप चीजों पर बेहतर ढंग से फोकस कर पाएंगे। इससे आपकी याद्दाश्त भी बढ़ेगी। योग और ध्यान से आपका प्रतिक्रियात्मक समय कम होता है। आप चीजों पर बेहतर और लंबे समय तक ध्यान केंद्रित कर पाते हैं। इससे आपकी कार्यक्षमता में भी इजाफा होता है।

योग से वजन घटायें

योग के कुछ प्रकार आपको आहार पर भी नियंत्रण रखने की सलाह देते हैं। यदि आप योग के साथ सही खाना भी अपनायें, तो इससे आपको काफी फायदा होता है। योग आपका वजन नियंत्रित रखने में भी मदद करता है। योग आपके पूरे शरीर की मांसपेश‍ियों पर असर डालता है। इससे हमारे पूरे शरीर में पौष्टिक तत्त्वों का सही अनुपात में विस्तार होता है। हमारा मेटाबॉलिक रेट सुधरता है। इससे आप अध‍िक कैलोरी खर्च करते हैं। आपका वजन कम होता है और आप पहले से अध‍िक जवां नजर आते हैं। योग उम्र बढ़ाने वाली तत्त्वों पर असर डालता है। और आपकी त्वचा में निखार लाता है। ये थे कुछ yog ke fayde

पढ़िए : सरसों के तेल के पांच स्वास्थ्य लाभ जिन्हें आप अनदेखा नहीं कर सकते

Email us at connect@shethepeople.tv