लोगों को आज भी औरतों की वर्जिनिटी से इतना ऑब्सेशन क्यों है? वर्जिनिटी की धारणा बनी-बनाई है। औरतों में जन्म से ऐसी कोई सील नहीं होती है। आइये जानें डॉ तनया से हाइमन से जुड़े मिथ्स के बारे में हाइमन और विर्जिनिटी 

हाइमन क्या होता है? ये क्या कम करता है? हाइमन और विर्जिनिटी 

हाइमन एक तरह का टिश्यू होता है, जो बहुत पतला और नाज़ुक होता है। यह एक इलास्टिक मेंब्रेन की तरह है। यह आपके वजाइनल एंट्रेंस पर होता है। साइंटिस्ट्स को भी 100% यह नहीं पता कि हाइमन होता क्यों है। लेकिन इसे इस तरीके से देखा जा सकता है कि जो छोटी लड़कियां होती हैं, उनके वजाइना का डिफेंस मैकेनिज्म पूरी तरीके से विकसित नहीं होता है, तो बाहर से आने वाली मिट्टी या गंदगी को रोकने के लिए शायद हाइमन होता है।

हाइमन आपकी वजाइनल ओपनिंग को पूरी तरीके से बंद नहीं करता है। यह एक गोल अंगूठी की तरह होता है और यह अधिकतर मामलों में इलास्टिक होता है, तो यह अपनी जगह से हट सकता है।

क्या हाइमन में पहले से छेद होते हैं? अगर हाइमन पूरी तरह सील्ड हो तो क्या होगा?

हां, हाइमन के अंदर पहले से ही बहुत छोटे-छोटे छेद होते हैं, जिसमें से आपका पीरियड ब्लड बाहर आता है। हाइमन एक पूरी कंप्लीट शील्ड की तरह नहीं होता है। लेकिन कई बार कुछ औरतों में वजाइनल एंट्रेंस पर ये सील्ड होता है, जिसकी वजह से पीरियड ब्लड बाहर नहीं आ पता। इस स्थिति को मेडिकल भाषा में इंपरफोरेट हाइमन कहते हैं। ऐसा हाइमन जिसमें छेद हो ही ना। ऐसी स्थिति में सर्जरी के द्वारा डॉक्टर हाइमन में छेद करते हैं, ताकि पीरियड ब्लड बाहर आ सके।

क्या हाइमन बरकरार होने का मतलब है कि हम वर्जिन है? हाइमन और विर्जिनिटी 

एक पब्लिश्ड मेडिकल जर्नल के अनुसार, एक सेक्स वर्कर की हाइमन पहले की तरह बरकरार थी। आपका हाइमन इस चीज का संकेत नहीं देता कि आपने सेक्स किया है या नहीं।

हाइमन के टूटने का क्या अर्थ है? क्या हर लड़की में बचपन से हाइमन होता है?

ये हर लड़की के अंदर हो, ज़रूरी नहीं है। बहुत सारी लड़कियों में यह बचपन से ही नहीं होता है। कई बार लड़कियों में स्पोर्ट्स या जिमनास्टिक, घुड़सवारी, बाइक राइडिंग, टैम्पॉन या मैंस्ट्रुअल कप इस्तेमाल करने के कारण भी हाइमन टूट जाता है। लेकिन इसके टूटने का यह मतलब नहीं है कि वह लड़की वर्जिन नहीं है।

** Disclaimer – डॉ तनया एक गयनेकोलॉजिस्ट हैं।

Email us at connect@shethepeople.tv