असम की पहली महिला फाइनेंस मिनिस्टर: राज्य के लिए पहली बार, एक महिला विधायक अजंता नियोग को फिनानके मिनिस्टर के रूप में नॉमिनेट किया गया है। गोलाघाट निर्वाचन क्षेत्र से पांच बार के विधायक, नवगठित मुख्यमंत्री हिमंत बिस्वा सरमा द्वारा नियोग को चार्ज दिया गया है।

रिपोर्ट्स के अनुसार असम के इतिहास में ऐसा पहली बार हुआ है कि किसी महिला को वित्त मंत्री का पद एल्लोकेट किया गया। 46 वर्षीय नियोग गौहाटी विश्वविद्यालय से लॉ ग्रेजुएट हैं।

आइये जानें असम की पहली महिला फाइनेंस मिनिस्टर के बारे में कुछ ज़रूरी बातें

  1. हाल ही में खत्म हुए चुनावों से पहले दिसंबर 2020 में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) में जाने से पहले वह कांग्रेस सरकार में मंत्री थीं। अटकलें लगाई गई थीं कि वह अपने विभागों में कुछ अनियमितताओं की रिपोर्ट के बाद पार्टी में शामिल हुई थीं।
  2. वह गोलाघाट निर्वाचन क्षेत्र से जीतीं। 1996 में उल्फा द्वारा उनके पति नागेन नियोग के मारे जाने के बाद, उन्हें रायजोर दल के अध्यक्ष अखिल गोगोई द्वारा राजनीति में पेश किया गया था। इससे पहले, तरुण गोगोई की सरकार में, उन्होंने पब्लिक वर्क डिपार्टमेंट में काम किया था।
  3. फ़िलहाल, वह भारतीय जनता पार्टी की सदस्य हैं, जहाँ उन्होंने दिसंबर 2020 में ज्वाइन किया था। विधायक के रूप में अपने पद से इस्तीफा देने के बाद, उन्हें उनकी कथित “पार्टी विरोधी” एक्टिविटीज़ के लिए इंडियन नेशनल कांग्रेस से निकल दिया गया था।
  4. उसने 2001 के चुनावों में पहली बार अपने नेअरेस्ट राइवल को १०००० वोटों से हराकर विधानसभा में प्रवेश किया। 2006 में हुए बाद के चुनाव में वह फिर से विजयी रहीं। 2011 के विधानसभा चुनावों में उन्होंने 46171 वोटों के बड़े अंतर से जीत दर्ज की। लगातार उसने ऊपरी असम में ‘भाजपा की लहर’ के बावजूद 2016 के विधानसभा चुनावों में जीत हासिल की, जहां कांग्रेस के ज़्यादातर उम्मीदवार हार गए। वह लोक निर्माण विभाग (सड़क और भवन, NH), शहरी विकास और आवास मंत्री, और पिछले तीन मंत्रिमंडलों में पद पर रही ।
  5. पीडब्ल्यूडी मंत्री के रूप में उनके काम के दौरान, असम ने बुनियादी ढांचे के विकास में बड़ी सफलता हासिल की। 6 नवंबर 2015 को आयोजित इंडिया टुडे समूह द्वारा असम को 13 वें राज्यों के कॉन्क्लेव में बड़े राज्य की श्रेणी में सर्वश्रेष्ठ इंफ्रास्ट्रक्चर राज्य घोषित किया गया। असम को इंफ्रास्ट्रक्चर डेवलपमेंट में सर्वश्रेष्ठ राज्य घोषित किया गया क्योंकि इन्होने पक्की लंबाई में 17 प्रतिशत की वृद्धि दर्ज की थी। 2011 से 2013-14 तक सड़क, जबकि इसी अवधि के लिए राष्ट्रीय औसत चार प्रतिशत था।
Email us at connect@shethepeople.tv