Alka Lamba Booked By Punjab Police: अल्का लांबा को क्यों गिरफ्तार किया गया?

Alka Lamba Booked By Punjab Police: अल्का लांबा को क्यों गिरफ्तार किया गया? Alka Lamba Booked By Punjab Police: अल्का लांबा को क्यों गिरफ्तार किया गया?

SheThePeople Team

21 Apr 2022


Alka Lamba Booked By Punjab Police: आम आदमी पार्टी की पूर्व नेता रह चुकी अल्का लांबा को पंजाब पुलिस ने पूछताश के लिए नोटिस जारी किया है। दिल्ली की रहने वाली अल्का फिलहाल कांग्रेस पार्टी की नेता है। आईए जानते है डिटेल्स-

अल्का लांबा कौन है?

अल्का लांबा भारतीय सेना के सिविलियन इंजीनियर अमर नाथ लांबा और राज कुमारी लांबा की बेटी है। उन्होंने दयाल सिंह कॉलेज से बीएससी की डिग्री हासिल की। इसके बाद उन्होंने बुंदेलखंड यूनिवर्सिटी, उत्तर प्रदेश से केमिस्ट्री एंड एजुकेशन में मास्टर्स की डिग्री हासिल की। दिल्ली यूनिवर्सिटी की छात्र रह चुकी अल्का दिल्ली यूनिवर्सिटी स्टूडेंट्स यूनियन की प्रेजिडेंट भी रही।

उसके बाद अलका लांबा ने राजीनीति में कदम रखने के लिए 1994 में कांग्रेस पार्टी की छात्र शाखा, भारतीय राष्ट्रीय छात्र संघ (NSUI) में शामिल हुई। उन्होंने 1996 में All India Girl।कन्वेनर के रूप में काम किया फिर 1997 में उन्हें अखिल भारतीय (एनएसयूआई) के अध्यक्ष बनाया गया। वह 20 से अधिक वर्षों तक कांग्रेस से जुड़ी रही। उन्होंने भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस में 2007-11 से अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी (एआईसीसी) के सेक्रेटरी के रूप में भी काम किया।

2014 में कांग्रेस छोड़कर आप में शामिल हो गई। 2015 में उन्होंने चांदनी चौक क्षेत्र से विधायक का पद हासिल किया। फिर उन्होंने आप छोड़ दी और सितंबर 2016 में कांग्रेस में वापिस शामिल हो गई। इसका कारण मतभेद और पार्टी के अन्य सदस्यों द्वारा उनका अनादर अनादर था। अल्का को 2008-2009 में महिलाओं के लिए काम करने के क्षेत्र में इंदिरा गांधी प्रतिष्ठान पुरस्कार से सम्मानित किया गया। वह एनजीओ 'गो इंडिया फाउंडेशन' भी चलाती हैं, जो रक्तदान आदि जैसे विभिन्न अभियान चलाता है।

अल्का लांबा को क्यों गिरफ्तार किया गया?

आगामी चुनाव में पंजाब विधानसभा चुनावों से पहले 20 अप्रैल, 2022 को, उन्होंने दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल के बारे में कथित रूप से अपमानजनक बयान दिया था। जिसके चलते पंजाब पुलिस ने उन्हें पूछताश के लिए बुलाया। उनपर पर आरपीसी और आईपीसी की धाराओं के तहत मामला दर्ज किया गया, उनपर रिप्रजेंटेशन ऑफ़ दी पीपल एक्ट 1951 और 1988 की धारा 125 शामिल है।

पंजाब पुलिस ने अल्का लांबा को नोटिस जारी किया, नोटिस में उन्हें स्पेशल इन्वेस्टीगेशन टीम के सामने पेश होने के लिए समन जारी किया है। रूपनगर पुलिस द्वारा जारी किए नोटिस में कहा- “जब भी आवश्यकता होगी, आप(अल्का लांबा) मामले की जांच में शामिल होंगे और जांच में सहयोग करेंगे और आप जांच के लिए आवश्यक सभी उचित दस्तावेज / सामग्री का प्रदान करेंगे। कृपया ध्यान दें कि यदि आप एसआईटी के सामने उपस्थित नहीं होती है , तो आवश्यक कदम उठाए जाएंगे।"

अल्का ने अपने ट्विटर अकाउंट पर पर पोस्ट शेयर की जिसमें लिखा था- "आपको(अल्का लांबा) को आरोपी के रूप में नामित किया गया है"। तथ्यों और परिस्थितियों का पता लगाने के लिए स्पेशल इन्वेस्टीगेशन टीम के सामने 26 अप्रैल को या उससे पहले सदर रूपनगर पुलिस स्टेशन में जांच के लिए से व्यक्तिगत रूप से पेश होने के लिए बुलाया जाता है"। इस पर टिपण्णी करते हुए अल्का ने लिखा -"वह पंजाब में आप सरकार से डरती है"।


अनुशंसित लेख