Beauty Parlour Stroke: 50 वर्षीय महिला को हुआ, क्या आप जानते है?

Rajveer Kaur
02 Nov 2022
Beauty Parlour Stroke: 50 वर्षीय महिला को हुआ, क्या आप जानते है?

क्या आप ने कभी ऐसा सुना है कि ब्यूटी पार्लर में हेयर वाश करने से आपको स्ट्रोक हो सकता है? ऐसा हो सकता है लेकिन यह बहुत ही रेयर स्थिति है जिसे ब्यूटी पार्लर सिंड्रोम से जाना जाता है। हाल ही में ऐसा मामला हैदराबाद में सामने आया है यहाँ पर  एक 50 वर्षीय महिला का आराम से इलाज कराने के लिए सैलून जाना  महँगा पड़ा। बाल कटवाने से पहले महिला को बाल धोने के दौरान दौरा पड़ा। डॉक्टरों के अनुसार, जब उसने धोने के लिए अपनी गर्दन वापस झुका ली मस्तिष्क की आपूर्ति करने वाली एक महत्वपूर्ण रक्त वाहिका पर दबाव पढ़ा। जिससे उसको स्ट्रोक हुआ।

क्या है ब्यूटी पार्लर ब्रेन स्ट्रोक ?
माहिरों के मुताबकि  पार्लर में बाल वॉश करने के लिए गर्दन को पीछे की तरफ झुकाया जाता है जिस कारन गर्दन और सिर की नसों पर जोर पड़ता है। कभी-कभी मसाज के दौरान भी गर्दन की नस दबने पर जोर पड़ता है जिससे रक्त की आपूर्ति करने वाली नसों पर दबाव पड़ता है। 40-45 मिनट तक गर्दन को पीछे की तरफ एक ही पोजिशन में रहने के कारण वर्टेब्रल आर्टिरी सिकुड़ जाती है जिससे खून का थक्का जमने लगता है जो स्ट्रोक की वजह बनता है।

Beauty Parlour Stroke: 50 वर्षीय महिला को हुआ, क्या आप इसके बारे में जानते है?

हैदराबाद के डॉक्टर सुधीर कुमार ने इस मामले की जानकारी ट्वीट की और इस स्ट्रोक के बारे में बताया। उनका कहना हैं, “मैंने हाल ही में एक 50 वर्षीय महिला को चक्कर आना, मतली और उल्टी के लक्षणों के साथ देखा, जो उसके बाल धोने के दौरान एक ब्यूटी पार्लर में शैम्पू से शुरू हुआ था। प्रारंभ में, उसे एक गैस्ट्रोएंटेरोलॉजिस्ट के पास ले जाया गया, जिसने उसका रोगसूचक उपचार किया”। 

"लक्षणों में सुधार नहीं हुआ, अगले दिन उसे चलते समय हल्का असंतुलन हो गया। उसे एक राय के लिए मेरे पास भेजा गया। उसे हल्के दाएं अनुमस्तिष्क लक्षण थे। एमआरआई मस्तिष्क ने दाएं पश्चवर्ती अवर अनुमस्तिष्क क्षेत्र में एक रोधगलन का खुलासा किया। एमआर एंजियोग्राम में बाएं कशेरुक हाइपोप्लासिया की बात सामने आई"।

PICA क्षेत्र को शामिल करते हुए ब्यूटी पार्लर  स्ट्रोक सिंड्रोम का निदान किया गया था। संभव तंत्र हाइपरेक्स्टेंशन के दौरान कशेरुका धमनी की किंक और शैम्पू से बाल धोते समय गर्दन को वॉश-बेसिन की ओर मोड़ना है। उन्होंने हाइपरटेंशन को भी अच्छी तरह से नियंत्रित कर लिया था। 

अनुशंसित लेख