Telangana schools reopen news in Hindi

हरयाणा में सरकार कक्षा 3 से 5 के लिए 24 फरबरी से फिर से खोलेंगे स्कूल। कोरोना वायरस के चलते स्कूलों को बंद करना पढ़ा था जिस से बच्चों को  पढाई का भारी नुकसान हुआ था।  इस दौरान कई स्कूलों ने ऑनलाइन पढाई भी चालू की पर जो कि बच्चों को ऑफलाइन क्लासेज की आदत है ऐसा देखा गया की अधिकतर बच्चों को पढ़ने और समझने मे दिक्कतें आयी। रूरल और छोटी जगह में बहुत से ऐसे बच्चे हैं जिनके पास फ़ोन नहीं होते जिसके कारण वो ऑनलाइन क्लासेज भी नहीं ले पाते थे पर अब हरयाणा में कक्षा 3 से 5 के लिए खुलेंगे स्कूल

image

 हरयाणा में कक्षा 6 से 8 के बच्चों के लिए स्कूल 1 फरबरी से खोल दिए गए थे। कक्षा 9 से 12 के लिए स्कूल अधिकांश रूपसे सितम्बर के बीच चालू कर दिए गए थे।  डायरेक्टरेट ऑफ़ स्कूल एजुकेशन ने ऑर्डर्स दिएं हैं की राज्य में स्कूल फिर से खोलें  जाएं। 

सारे सरकारी और प्राइवेट स्कूल फिर से खोले जाएंगे और स्कूलों का समय सुबह 10 से  1:30 के बीच रहेगा। इसमें बच्चों के पास ऑप्शन रहेगा की वो स्कूल आकर पढाई करना चाहते हैं या फिर घर पर रहकर ऑनलाइन पढाई ही करेंगे। 

स्कूल खुलने के दौरान सारे कोरोना वायरस नियमों का पालन किया जाएगा जैसे की कर्मचारी और बच्चों का टेम्परेचर चेक होना, फेसमास्क पहनना और सामाजिक दूरी बनाए रखना।  नियमों का पालन करते वक़्त जिसका भी टेम्परेचर ज्यादा होगा उसकी स्कूल में एंट्री नही दी जाएगी।

सरकार ने ऑफिसियल स्टेटमेंट में साफ़ साफ़ कहा है की कोरोना वायरस के मामले  स्टेट में कम होते जा रहे हैं और पिछले 24 घंटे वायरस से कोई भी मृत्यु नहीं देखी गई है।  स्टेट में संडे को 121 कोरोना मामले  ही देखे गए  हैं।

कर्नाटक सरकार ने भी कहा कि कक्षा 6  से 8 के लिए 22 फरबरी से चालू होंगे स्कूल।  हालांकि सरकार ने साफ़ शब्दों में कहा है कि स्कूल में आने वाले सारे बच्चों के लिए जरुरी होगा की वो अपनी कोरोना नेगेटिव रिपोर्ट स्कूल में दिखाएं। हरियाणा खुलेंगे स्कूल

Email us at connect@shethepeople.tv

Telangana schools reopen news in Hindi

हरयाणा की सरकार कक्षा 3 से 5 के लिए 24 फरबरी से फिर से खुलेंगे स्कूल। कोरोना वायरस के चलते स्कूलों को बंद करना पढ़ा था जिस से बच्चों को पढाई का भारी नुकसान हुआ था। हरयाणा में खुलेंगे स्कूल और बच्चों के पास ऑप्शन रहेगा की वो स्कूल आकर पढाई करना चाहते हैं या फिर घर पर रहकर ऑनलाइन पढाई ही करेंगे। ऑनलाइन पढाई भी चालू की पर जो कि बच्चों को ऑफलाइन क्लासेज की आदत है ऐसा देखा गया की अधिकतर बच्चों को पढ़ने और समझने मे दिक्कतें आयी। रूरल और छोटी जगह में बहुत से ऐसे बच्चे हैं जिनके पास फ़ोन नहीं होते जिसके कारण वो ऑनलाइन क्लासेज भी नहीं ले पाते थे।

image

हरयाणा में कक्षा 6 से 8 के बच्चों के लिए स्कूल 1 फरबरी से चालू कर दिए गए थे। कक्षा 9 से 12 के लिए स्कूल अधिकांश रूपसे सितम्बर के बीच चालू कर दिए गए थे। डायरेक्टरेट ऑफ़ स्कूल एजुकेशन ने ऑर्डर्स दिएं हैं की राज्य में स्कूल फिर से खोलें जाएं।
सारे सरकारी और प्राइवेट स्कूल फिर से खोले जाएंगे और स्कूलों का समय सुबह 10 से 1:30 के बीच रहेगा। इसमें बच्चों के पास ऑप्शन रहेगा की वो स्कूल आकर पढाई करना चाहते हैं या फिर घर पर रहकर ऑनलाइन पढाई ही करेंगे।

स्कूल खुलने के दौरान सारे कोरोना वायरस नियमों का पालन किया जाएगा जैसे की कर्मचारी और बच्चों का टेम्परेचर चेक होना, फेसमास्क पहनना और सामाजिक दूरी बनाए रखना। नियमों का पालन करते वक़्त जिसका भी टेम्परेचर ज्यादा होगा उसकी स्कूल में एंट्री नही दी जाएगी।

सरकार ने ऑफिसियल स्टेटमेंट में साफ़ साफ़ कहा है की कोरोना वायरस के मामले स्टेट में कम होते जा रहे हैं और पिछले 24 घंटे वायरस से कोई भी मृत्यु नहीं देखी गई है। स्टेट में संडे को 121 कोरोना मामले ही देखे गए हैं।

कर्नाटक सरकार ने भी कहा कि कक्षा 6 से 8 के लिए 22 फरबरी से चालू होंगे स्कूल। हालांकि सरकार ने साफ़ शब्दों में कहा है कि स्कूल में आने वाले सारे बच्चों के लिए जरुरी होगा की वो अपनी कोरोना नेगेटिव रिपोर्ट स्कूल में दिखाएं।

post image
हरयाणा में कक्षा 3 से 5 के लिए खुलेंगे स्कूल
post image
CBSE Board Exam जनवरी-फ़रवरी में नहीं, बाद में कराई जाएगी – रमेश पोखरियाल
post image
आपके बॉयफ़्रेंड कितने प्यारे हैं? 8 Signs से पता करिये
post image
मैं 2021 में Period Conversations को नार्मलाइज़ होते देखना चाहती हूँ

हमारे बारे में

शीदपीपल.टीवी भारत का पहला महिला-केंद्रित मीडिया प्लेटफार्म है. हम महिलाओं की जर्नी, और उनकी कहानियों को बढ़ावा देने के लिए समर्पित हैं. हम उन्हें एक ऐसे अद्बुद्ध नेटवर्क से जोड़ते हैं जो उन्हें सशक्त बनाता है,उन्हें प्रेरित करता है और उन्हें आगे बढ़ने का बढ़ावा देता है।

भारत में प्रत्येक गुज़रते साल के साथ महिलाएं ऑनलाइन आ रही हैं. उन्हें एक ऐसे प्लेटफार्म की ज़रुरत है जो उन्हें समझ पाए. हम उन महिलाओं से जुड़ते हैं जो नए विचारों और प्रेरणा के साथ दुनिया को समृद्ध करते हैं.

पुरस्कार विजेता पत्रकार शैली चोपड़ा द्वारा स्थापित, शीदपीपल.टीवी वो आवाज है जो भारतीय महिलाओं को आज चाहिए।