राजस्थान में 14 साल की बच्ची के साथ उसके भाई के सामने बलात्कार: रिपोर्ट

राजस्थान में 14 साल की बच्ची के साथ उसके भाई के सामने बलात्कार: रिपोर्ट राजस्थान में 14 साल की बच्ची के साथ उसके भाई के सामने बलात्कार: रिपोर्ट

SheThePeople Team

09 Aug 2021


राजस्थान के झुंझुनू के चिरावा थाना क्षेत्र में 14 साल की बच्ची के साथ दुष्कर्म का मामला सामने आया है। पुलिस के मुताबिक 19 साल के एक युवक ने बताया कि रात में उसकी बहन घर पर अकेली थी तभी सोमेश नायक आया, लड़की को बंधक बनाकर उसके साथ दुष्कर्म किया। उसने उसे जान से मारने की धमकी भी दी। घर लौटने पर उसने कमरा बंद पाया और उसकी बहन रो रही थी।

14 साल की बच्ची के साथ दुष्कर्म : माता पिता की मृत्यु के बाद से भाई-बहन अकेले रहते थे

वह दो घंटे तक दरवाजा खटखटाता रहा लेकिन उसकी कोशिश बेकार गई। सूत्रों के मुताबिक, आरोपी ने गेट नहीं खोला। इसके बाद युवक अपनी बड़ी बहन और साले को बुलाने गया। इस बीच आरोपी वहां से भाग गया।

हालांकि आरोपी घटना के बाद जान से मारने की धमकी देता रहा। माता पिता की मृत्यु के बाद से घर में दोनों भाई-बहन अकेले रहते थे। तीन दिनों के बाद, उन्होंने आखिरकार अपनी और अपनी बहन के लिए सुरक्षा मांगने का साहस जुटाया। वह यह भी चाहते थे कि पुलिस आरोपियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करे।

आरोपी को किया गया गिरफ्तार

घटना की जानकारी होने पर चिरावा सीआई भगवान सहाय मीणा ने पूरे थाने की पुलिस को आरोपी के पीछे लगा दिया, जिसे बाद में करीब 24 घंटे में गिरफ्तार कर लिया गया। 14 साल की बच्ची के साथ दुष्कर्म 14 साल की बच्ची के साथ दुष्कर्म

ऐसी ही एक घटना पिछले हफ्ते नागपुर से सामने आई थी जहां एक नाबालिग लड़की के साथ दो बार सामूहिक बलात्कार किया गया था। यह 29 जुलाई की रात को पुरुषों के दो अलग-अलग समूहों द्वारा हुआ। लड़की और उसके माता-पिता के बीच कहासुनी हो गई, जिसके बाद लड़की घर छोड़कर चली गई। एक ही रात में उसके साथ दो बार रेप किया गया।

देश को झकझोर देने वाली एक और घटना में नौ साल की एक बच्ची शामिल है, जिसका दिल्ली के एक श्मशान घाट के एक पुजारी और तीन पुरुष कर्मचारियों ने कथित तौर पर बलात्कार और हत्या कर दी थी। उसके बाद, उन्होंने उसके शरीर का भी अंतिम संस्कार कर दिया था। इस भयावह घटना से क्षेत्र में व्यापक विरोध प्रदर्शन हुआ है। घटना दिल्ली कैंट क्षेत्र के पुराना नंगल में हुई जहां आर्थिक रूप से पिछड़े परिवार की बच्ची अपने माता-पिता के साथ रहती थी। केस में बारे में और पढ़े

 


अनुशंसित लेख