International Flights Ban: सरकार ने इंडिया में 15 दिसंबर से इंटरनेशनल फ्लाइट चालू करने का फैसला वापस लिया

International Flights Ban: सरकार ने इंडिया में 15 दिसंबर से इंटरनेशनल फ्लाइट चालू करने का फैसला वापस लिया International Flights Ban: सरकार ने इंडिया में 15 दिसंबर से इंटरनेशनल फ्लाइट चालू करने का फैसला वापस लिया

SheThePeople Team

02 Dec 2021

International Flights Ban: इंडिया में 21 महीने के बैन के बाद फाइनली यह फैसला लिया था कि इंटरनेशनल फ्लाइट्स 15 दिसंबर से चालू कर दी जाएँगी। लेकिन हाल में ही आये कोरोना के ओमिक्रोण वैरिएंट ने एक बार फिर से सोचने के लिए मजबूर कर दिया इस फैसले के ऊपर। अब फ्लाइट्स चालू करने के फैसले को और आगे बढ़ा दिया गया है और फ़िलहाल यह चालू नहीं होंगी।

विदेश के अधिकतर देशों में ओमिक्रोण वैरिएंट फैला हुआ है और ऐसे में बाहर से लोगों का आना जाना बिलकुल भी सुरक्षित नहीं है। इतना ही नहीं लगातर सरकार ट्रेवल पर नज़र रखे हुए हैं और तगड़ी टेस्टिंग और रूल्स फॉलो किए जा रहे हैं।

ओमिक्रोण वैरिएंट के आने से हर एक चीज़ को लेकर दोबारा से विचार कर रहे हैं। पहले 15 दिसंबर से फ्लाइट चालू करने का फैसला हेल्थ मिनिस्ट्री, एक्सटर्नल अफेयर मिनिस्ट्री और होम अफेयर्स के साथ बैठ कर लिया गया था।

वर्ल्ड हेल्थ ऑर्गेनाइज़शन का ओमिक्रोण वैरिएंट को लेकर क्या कहना है?


वर्ल्ड हेल्थ ऑर्गेनाइज़शन का कहना है कि अभी कुछ कहा नहीं जा सकता है। यह कितनी तेजी से फैलेगा बाकि वैरिएंट के मुकाबले इसको लेकर भी कुछ क्लियर नहीं है। अभी सी चीज़ को लेकर भी कोई इनफार्मेशन नहीं है कि इस वैरिएंट के सिम्पटम्स कैसे होंगे।

अभी इतना कहा जा सकता है कि यह उन लोगों के लिए ज्यादा रिस्की हो सकता है जिन्हें पहले कोरोना हो चुका है। WHO का कहना है कि बुजुर्ग लोग और हैल्थकारे वर्कर्स अपना खास ख्याल रखें और सबसे पहले अपनी वैक्सीन के दोनों दोसेस लगवा लें।

क्या है ओमिक्रोण कोरोना वैरिएंट?


इस कोरोना के नए वैरिएंट का नाम B. 1. 1. 529 है। साइंटिस्ट एक कहना है कि इस नए वायरस से ड़रने की और सावधानी बरतने की जरुरत है क्योंकि यह इंडिया में मिले वैरिएंट डेल्टा से भी ज्यादा खतरनाक है। इस वायरस के आने से वापस से मार्केट बंद होने का और स्टॉक मार्केट गिरने का डर सभी को लग रहा है। सबसे पहले यह वायरस बोत्सवाना में मिला था जो कि साउथ अफ्रीका में है इसलिए इसको पहले बोत्सवाना नाम से बुलाया जा रहा था।

अनुशंसित लेख