मुंबई स्थित स्टैंड-अप कॉमेडियन अग्रिमा जोशुआ (Agrima Joshua) सोशल मीडिया स्टॉर्म के बीच में हैं। उनपर आरोप लगा है की उन्होंने छत्रपति शिवजी महाराज का मज़ाक उड़ाया है । स्टैंड-अप कॉमिक के जोक्स से शिवसेना नाराज है और वे अब उसकी गिरफ्तारी की मांग कर रहे हैं। अग्रिमा ने ट्विटर पे महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना से माफी भी मांगी है। लेकिन अब उसे सोशल मीडिया पर रेप की धमकियां मिल रही हैं । अभी हाल ही में एक और कॉमेडियन सुरलीन कौर खबरों में थीं, क्योंकि इस्कॉन ने कॉमेडियन सुरवीन कौर के ‘हिंदू विश्वास के खिलाफ अपमानजनक टिप्पणी’ के खिलाफ शिकायत दर्ज की थी।

image

अब तक की कहानी

गृह मंत्री अनिल देशमुख ने पुलिस को छत्रपति शिवराज महाराज के अपमान के आरोपों पर स्टैंड-अप कॉमेडियन अग्रिमा जोशुआ के खिलाफ ’कानूनी कार्रवाई’ करने का निर्देश दिया।

और पढ़िए : रेप के खिलाफ एक जंग की कहानी – मर्दानी 2

देशमुख ने शनिवार को ट्वीट किया, “मैंने सीपी (कमिश्नर ऑफ़ पुलिस) मुंबई और आईजी (इंस्पेक्टर जनरल) साइबर को निर्देश दिया है कि वह तेजी से कानूनी कार्रवाई करें। मैं सभी से शांत रहने का आग्रह करता हूं और कानून अपना काम करेगा। ”

एक रिपोर्ट के अनुसार, यह गिरफ्तारी एमएलए प्रताप सरनाईक द्वारा दायर की गयी शिकायत का रेअक्टिव है जिसने उनके खिलाफ “सख्त” कार्रवाई की मांग की और दावा किया कि जोशुआ ने शिवाजी महाराज का “अपमान” किया।

जोशुआ ने अपने सोशल मीडिया पर कई बार माफी मांगी क्योंकि पोलिटिकल फिगर्स अपने ऑफिसियल एकाउंट्स से उसकी गिरफ्तारी की मांग कर रहे हैं।

इन धमकियों को देने वाले लोगों में YouTuber शुभम मिश्रा भी मौजूद है जिसके खिलाफ FIR दर्ज होने पर आज गुजरात पुलिस ने उसे हिरासत में ले लिया है।

वीडियो में क्या है?

एक साल पहले, अप्रैल 2019 का एक वीडियो अचानक वायरल हुआ है, जहां जोशुआ कथित तौर पर अरेबियन सी में महाराष्ट्र सरकार की शिवाजी स्टेचू प्रोजेक्ट के बारे में मजाक कर रही हैं। मूल क्लिप हटाए जाने के बाद, रिपोर्ट में यह कहते हुए उसकी क्लिप दिखाई जा रही है:

“यह शिवाजी की मूर्ति प्रधान मंत्री मोदी जी द्वारा एक अद्भुत मास्टरस्ट्रोक है,” जोशुआ कहती हैं। “इसमें सोलर सेल होंगे जो पूरे महाराष्ट्र को बिजली देंगे … इसमें जीपीएस ट्रैकर भी होगा …”

और पढ़िए : निर्भया केस के इतने सालों बाद भी क्यों नहीं है लड़कियां सुरक्षित

शुभम मिश्रा हिरासत में

इन धमकियों को देने वाले लोगों में YouTuber शुभम मिश्रा भी मौजूद है जिसके खिलाफ FIR दर्ज होने पर आज गुजरात पुलिस ने उसे हिरासत में ले लिया है।

सवाल क्या है?

किसी को भी महिला को बलात्कार की धमकी क्यों भेजनी चाहिए? चाहे वह एक हास्य कलाकार के रूप में ‘इंसल्ट’ हो या उसके खिलाफ कोई ‘शिकायत’ हो, क्या वो इसके लायक है की लोग उसे सबके सामने वीडियो के द्वारा रेप थ्रेट्स दे ? भारत में, हम हास्य और राजनीतिक हास्य को एक रियल इशू के रूप में समझने लगे हैं। यह हास्य है, क्या यह नहीं है? क्या हम भूल गए हैं कि हम एक ऐसा राष्ट्र हैं जो फ्री स्पीच पर गर्व करता है? शुभम मिश्रा की वीडियो को न केवल रिपोर्ट किया जाना चाहिए बल्कि इसे हमे ये सोचने पे मजबूर करना चाहिए की क्या हम ऐसे समाज में रहते हैं जहाँ उस बन्दे को ऑनलाइन रेप थ्रेट देने में भी डर नहीं लग रहा ?

Email us at connect@shethepeople.tv