Diwali Cracker Controversy: दिवाली में पटाखे के ऊपर फिर से छिड़ी बहस, कंगना और सदगुरु ने किया पटाखों का सपोर्ट

Swati Bundela
03 Nov 2021
Diwali Cracker Controversy: दिवाली में पटाखे के ऊपर फिर से छिड़ी बहस, कंगना और सदगुरु ने किया पटाखों का सपोर्ट Diwali Cracker Controversy: दिवाली में पटाखे के ऊपर फिर से छिड़ी बहस, कंगना और सदगुरु ने किया पटाखों का सपोर्ट
हर साल दिवाली के साथ साथ कई सरे सवाल मन में आते हैं कि पटाखे चलाए या न चलाएं। कई लोग पटाखों के बैन को लेकर आवाज उठाते हैं तो कई लोग दम से पटाखे चलते हैं और खूब एन्जॉय करते हैं। इस साल भी वही हुआ और जैसे ही इस बार सदगुरु ने दिवाली को लेकर एक पोस्ट की यह सभी जगह वायरल हो गयी। इस में इन्होंने बताया है कि कैसे बच्चों की ख़ुशी से बढ़कर और कुछ भी नहीं होता है। किस तरीके से बच्चे पटाखों के लिए कई महीनों पहले से उत्साहित होते हैं और इन्होंने खुद का एक्सपीरियंस भी बताया कि कैसे वो खुद उत्साहित रहते थे।

Diwali Cracker Controversy: दिवाली में पटाखे के ऊपर फिर से छिड़ी बहस, कंगना और सदगुरु ने किया पटाखों का सपोर्ट


1. हाल में ही एक्ट्रेस कंगना रनौत ने कहा कि जो भी लोग दिवाली के पटाखे बैन करने कि कह रहे हैं वो कुछ दिनों के लिए ऑफिस पैदल ही जाएं और कार का इस्तेमाल न करें।

2. यह कंगना का स्टेटमेंट सदगुरु के एक वायरल वीडियो के बाद आया है जिस में सदगुरु कह रहे हैं कि छोटे छोटे बच्चे पटाखों के लिए कई महीनों पहले से उत्साहित रहते हैं और ऐसे में उन्हें पटाखे चलाने की ख़ुशी न देना गलत होगा।

3. इससे बेहतर है कि आप आपके बच्चों की यह ख़ुशी न छीने उन्हें पटाखे चलाने दें और खुद दो तीन दिन के गाड़ी की जगह पैदल चलें जिससे प्रदुषण का असर कम हो जाएगा।

4. कंगना ने भी सदगुरु की यह वीडियो इनके इंस्टाग्राम पर पोस्ट भी की और लिखा कि इन्होंने खुद लाखों पेड़ लगाएं हैं और उन्होंने उन लोगों को सही जवाब दिया है जो पटाखे चलाने के लिए मना करते हैं।

5. वहीँ दूसरी ओर दिल्ली के चीफ मिनिस्टर अरविन्द केजरीवाल ने दिल्ली में पटाखों को जनवरी तक के लिए बैन कर दिया है और कहा है कि यह लोगों की सेहत के लिए जरुरी था।

6. दिल्ली के प्रदुषण कण्ट्रोल कमिटी ने पटाखों की बेच और खरीद पर रोक लगा दी है और जो भी पटाखे चलते देखा जायेगा उसके खिलाफ कार्यवाही भी की जाएगी।

7. ऐसा इसलिए कहा गया है क्योंकि दिल्ली में हर साल पटाखे चलाने ने दिवाली के बाद बहुत जयादा प्रदुषण बड़ जाता है और यह अभी से बड़ना चालू हो भी चुका है।
अगला आर्टिकल