कोरोना महामारी की दूसरी लहर

कोरोना महामारी जो की 2020 में फरबरी में आई थी जाने का नाम नहीं ले रही है। कोरोना वायरस चीन से फैलना चालू हुआ और फिर पूरे विश्व में फैलता गया। धीरे धीर पूरे भारत में लॉकडाउन लग गया। कोरोना महामारी के कारण लोगों का 2020 का पूरा साल घरों में बंद होकर ही गुजरा। अब जब सबको लगने लगा था की वायरस थम गया है उसकी दूसरी लहर फिर से आने लगी है। कोरोना के मामले फिर से बढ़ना चालू हो गए हैं। महाराष्ट्र के हॉस्टल में 39 स्टूडेंट्स और 5 कर्मचारी हुए कोरोना संक्रमित

महाराष्ट्र के हॉस्टल में टोटल 360 स्टूडेंट्स का कोरोना टेस्ट करा गया जिसमें से 39 स्टूडेंट्स की रिपोर्ट्स आई पॉजिटिव। ये सारे स्टूडेंट्स क्लास 9th और 10th के थे। और इसके साथ कुल 60 टीचर्स में से 30 टीचर्स का कोरोना टेस्ट होना अभी बाकी है। अभी फिलहाल 5 कर्मचारी की रिपोर्ट पोस्टिव आई है।इसकी जांच हेल्थ अफसर महेश पाटिल की निगरानी में की गयी है। पाटिल जी ने बताया की हॉस्टल मे टेस्टिंग करने का कारण एक लड़की का कोरोना पॉजिटिव था। जब उसकी रिपोर्ट पॉजिटिव आई तो उसकी 13 रूममेट्स का भी टेस्ट करा गया और उन सब की रिपोर्ट भी पॉजिटिव ही आई। इसका साफ़ मतलब है की संक्रमण अभी थमा नहीं है और हमें ढिलाई नहीं देनी चाहिए। अभी के लिए हॉस्टल के सारे इन्फेक्टेड लोगों को सरकारी अस्पताल में भर्ती कर दिया गया है।

हमे जरुरत है कि हम सतर्क रहे और सैनिटाइज़र, मास्क और सोशल डिस्टन्सिंग का पालन करते रहें।

इस दौरान महाराष्ट्र सरकार ने नए रोकथाम कानून लागू कर दिए गए हैं। ये रेस्ट्रिक्शन्स मुंबई,अमरावती ,औरंगाबाद ,नासिक और यवतमाल और कई और जगह पर किए गए हैं। मुंबई के चीफ मिनिस्टर उद्धव ठाकरे ने कहा की वो चिंतित है कोरोना वायरस की इस दूसरी लहर को लेकर। अगर ये अभी नहीं रोकी गयीं तो ये पूरे सिस्टम में तनाव की स्तिथि पैदा कर देगा।

Email us at connect@shethepeople.tv