फेमिना मिस इंडिया, 2020 की रनरअप बनकर मान्या सिंह ने सभी को बेहद गर्व महसूस करवाया है। मान्या मूल रूप से उत्तर प्रदेश की रहने वाली हैं, और एक ऑटो ड्राइवर की बेटी हैं। SheThePeople को दिए इंटरव्यू में मान्या सिंह ने अपनी ज़िंदगी से जुड़ी छोटी-बड़ी बातों को शेयर किया है। नीचे मान्या द्वारा SheThePeople को बताई गई बातें हैं। इन बातों को पढ़कर आप जान पाएंगे कि मान्या ने अपने सिर पर ताज सजाने के लिए, कितनी कठोर मेहनत की है।

  • मिस इंडिया रनरअप मान्या सिंह ने बताया कि उनकी माँ ने उन्हें मजबूत रहना और अपने पैरों पर खड़ा होना सिखाया है। साथ ही, मान्या ने कहा कि वो अपने पिता की पैसों को लेकर मदद करना चाहती थी और जब मदद करती थी तो उनके पिता वो पैसे उन्हीं के लिए जमा कर देते थे। ”मैंने अपनी माँ से मजबूत रहना और अपने पैरों पर खड़ा होना सीखा है। मेरे पिता एक ऑटो ड्राइवर हैं, जिसके कारण हमें पढ़ाने के लिए उनको काफी मेहनत करनी पड़ती थी। यह बात मुझे पता थी और इसलिए मैंने अपने पिता से कहा कि मैं अपनी ग्रेजुएशन का पूरा खर्च तो नहीं उठा पाऊँगी मगर आधा खर्चा जरूर उठाऊँगी। मेरे पिता को मेरी पढ़ाई से कोई दिक्कत नहीं थी और जो पैसे मैं पापा को अपनी पढ़ाई के लिए देती थी, वो पैसे पापा मेरे लिए ही जमा करते रहते थे। यह बात पापा ने मुझे उस वक्त पता भी नहीं चलने दी थी।” Manya Singh interview in hindi 
  • मान्य सिंह ने मुंबई में अपने शुरुवाती दिनों के संघर्ष को लेकर भी खुलकर बात की। मान्या ने बताया कि उन्हें पता था कि उनको अपने सपनों को पाने के लिए बहुत मेहनत करनी है। ”वो दिन बेहद कठिन थे। मगर मुझे यह पता था कि मुझे मिस इंडिया बनना है, और उसके लिए बहुत मेहनत भी करनी है। मिस इंडिया बनने के लिए मुझे खुद को बेहतर बनाना था, खुद को शिक्षित करना था और खुद को अपने पाँव में खड़ा कर, खुदके अंदर की शक्ति को जानना था। मुझे अपनी पुरानी जॉब्स पर गर्व है, क्योंकि उन्ही जॉब्स के कारण मैंने सब कुछ सीखा है।” Manya Singh interview in hindi
  • मान्या सिंह ने मॉडलिंग की शुरुवात अपने कॉलेज के दिनों में की। कॉलेज में मान्या ने लोगों को देख, उनसे सीखना शुरू किया। मान्या ने मॉडलिंग को अपना करियर बनाना चाहा क्योंकि वो मिस इंडिया बनना चाहती थी। ”मैंने मॉडलिंग की शुरुवात अपने कॉलेज के दिनों में की। कॉलेज में मैंने लोगों से सीखना शुरू किया। इंटरनेट के ज़रिए मैंने वॉक करना सीखा, और काफी मेहनत की। मुझे लोगों की वॉक की नकल करने को कहा जाता था। पर मैंने खुद को यह बात याद करा दी थी कि सबसे सीखते हुए आगे बढ़ना है, मगर खुद को किसी भी कीमत पर नहीं खोना है। मैं मॉडलिंग को अपना करियर बनाना चाहती थी क्योंकि मैंने मिस इंडिया बनने का सपना सजाया था।”
  • मान्या सिंह ने बताया कि वह लैंगिक समानता (gender equality) और हिंसा (violence) जैसे मुद्दों पर लोगों को जागरूक करना चाहती हैं।” लैंगिक समानता और हिंसा दोनों ही ऐसे मुद्दे है, जो मेरे दिल के बेहद करीब हैं। मैंने इन चीजों को झेला है, और इसलिए इन मुद्दों को मैं महसूस कर सकती हुँ। मैं अपनी इस फीलिंग को लोगों के साथ बांटना चाहती हुँ। मैंने इस मुद्दे को चुना है, और इसके लिए मैं हमेशा काम करूंगी, न केवल सोशल मीडिया पर बल्कि ज़मीन पर भी। मुझे बेस्ट स्टेज मिला है, और इसका मैं भरपूर फायदा उठाऊँगी।”
  • मान्या सिंह कहती हैं कि हर माँ-बाप को अपनी बेटियों पर विश्वास रखना चाहिए। और बेटियों को बहुत सारा प्यार देने के साथ, आगे बढ़ने के लिए साहस भी देना चाहिए। ”अपनी बेटियों पर विश्वास रखें। अगर आप उनपर विश्वास रखेंगे, तो बेटियों में आगे बढ़ने की हिम्मत आएगी। कभी ये न सोचें कि – ‘काश! हमारा बेटा होता।’ अपनी बेटियों को सही दिशा दें, और वो आकाश छू लेंगी।” Manya Singh interview in hindi 
Email us at connect@shethepeople.tv