Mukesh Khanna Slams Kangana Ranaut: कंगना रनौत के भीख रिमार्क को मुकेश खन्ना ने कहा बचकानी और चापलूसी हरकत

Mukesh Khanna Slams Kangana Ranaut: कंगना रनौत के भीख रिमार्क को मुकेश खन्ना ने कहा बचकानी और चापलूसी हरकत Mukesh Khanna Slams Kangana Ranaut: कंगना रनौत के भीख रिमार्क को मुकेश खन्ना ने कहा बचकानी और चापलूसी हरकत

SheThePeople Team

24 Nov 2021

बॉलीवुड क्वीन खाना रनौत ने जब से इंडिया की आज़ादी को लेकर स्टेटमेंट दिया है तभी से लोग इसके ऊपर अलग अलग तरीके से रियेक्ट कर रहे हैं। कंगना रनौत को हाल में ही दिल्ली में पद्मा श्री अवार्ड से नवाज़ा गया है। जब कंट्रोवर्सी बहुत ज्यादा बढ़ गयी तब कंगना ने यह तक कहा है कि जिस इंटरव्यू में मैंने अपना स्टेटमेंट दिया है अगर उसी इंटरव्यू में मुझे कोई गलत साबित करता है तो मैं अपना पद्मा श्री खुद वापस लौटा दूंगी। मैं अपने काम का अंजाम भुगतने के लिए तैयार हूँ।

कंगना रनौत ने आज़ादी को लेकर क्या कहा था?

कंगना ने कहा है कि 2014 से जो पहले था “वो आज़ादी नहीं थी, वो भीख थी और जो आज़ादी मिली है वो 2014 में मिली है”। इसको लेकर कुछ समय पहले जावेद अख्तर भी कुछ बोले थे और अब मुकेश खन्ना ने इसको लेकर इंस्टाग्राम पर बड़ा सा नोट लिखा है।

मुकेश खन्ना ने कंगना के भीख रिमार्क को लेकर क्या कहा?

मुकेश ने लिखा कि कई लोगों ने इनसे पूंछा कि इन्होंने कंगना के इंडेपेंसे रिमार्क पर कोई भी टिप्पड़ी नहीं दी है। तब इन्होंने कंगना की फोटो इंस्टाग्राम पर पोस्ट कर बड़ा सा मैसेज लिखा। इस में इन्होंने लिखा कि मुझे यह बहुत ही बचकानी, हसने वाली और चापलूसी वाली हरकत लगी। इन्होंने कहा कि यह इनको पद्मा अवार्ड मिलने का साइड एफेक्ट है या क्या है इनको नहीं मालूम है। इनका कहना है कि अगर अंग्रेजों के मन में कोई खौफ पैदा कर पाया था तो वो सिर्फ और सिर्फ सुभाष चंद्र बोस की आज़ाद हिद ही फौज और देश के क्रांतिकारियों के बलिदान थे।

जावेद अख्तर भी कुछ समय पहले इनके विरोध में बोले थे। इन्होंने ट्विटर पर लिखा कि “मैं समझता हूँ कि जिस इंसान का फ्रीडम मूवमेंट में कोई योगदान नहीं रहा उसे क्यों बुरा लगेगा जब कोई हमारी आज़ादी को भीख कहता है”। एक्टर स्वरा भास्कर ने भी इसका विरोध किया था और कहा था कि ” कौन हैं वो पागल लोग जो अब तालियां बजा रहे हैं”।

कुछ समय पहले 91 साल की फ्रीडम फाइटर की वीडियो भी कंगना के विरोध में सामने आयी थी। इन्होंने कहा कि “हमारे जैसे लोग जो फ्रीडम के लिए जाने क्या कुछ कर बैठे हैं ऑफर न जाने हमने क्या क्या झेला है और यह महिला कहती है फ्रीडम भीख में मिली है। इस पर मैं बहुत गुस्सा हूँ और प्राइम मिनिस्टर से रिक्वेस्ट करती हूँ कि इनको इसका सबक दिया जाए ताकि ऐसा कभी कोई भी न कह पाए।” 

 




अनुशंसित लेख