Advertisment

Mystery Fever in Haryana: यहाँ जानिए पलवल जिले में फैले इस वायरल फीवर के बारे में सभी ज़रूरी बातें



Advertisment

Mystery Fever in Haryana: भारत पहले ही लगभग 2 साल से कोरोना की मार झेल रहा है, वही अब एक और नई मुसीबत आ चुकी है। हरियाणा के पलवल जिले के चिल्ली गांव में फ़ैल रहा है एक वायरल बुखार। इस मिस्ट्री फीवर के निशाने पर खासतौर पर बच्चे है यही नहीं इसने अब तक कई लोगों की जान ले ली है। बीते 10 दिनों में पलवल जिले के इस गांव में करीब 50 से 60 बच्चे इस रहस्यमय बुखार का शिकार हो चुके है।

Mystery Fever in Haryana: यहाँ जाने हरियाणा के पलवल जिले में फैले इस वायरल फीवर के बारे में ज़रूरी बातें



Advertisment


  • रिपोर्टों के मुताबिक़, हरियाणा में लगभग 50-60 बच्चों की इस वायरल बुखार से मौत हो गई है और उन्हें विभिन्न निजी अस्पतालों में भर्ती कराया गया है। यही नहीं इस मिस्त्री फीवर से आठ बच्चों की मौत हो चुकी है।


  • चिल्ली गांव के लोगों का दावा है कि बच्चों की मौतें डेंगू के कारण हो रही है, हालांकि स्वास्थ्य विभाग की ओर से इस दावे की कोई पुष्टि नहीं की गई है।


  • दरअसल गांव के लोग इस बात का दावा रोगियों में कम प्लेटलेट काउंट को देखते हुए कर रहे है। वही स्वास्थ्य विभाग कह रहा है कि वायरल संक्रमण के दौरान प्लेटलेट्स का कम होना कोई असामान्य बात नहीं है।


  • आपको बता दे कि इससे पहले इस वायरल फीवर के उत्तर प्रदेश के फिरोजाबाद और बिहार राज्य में भी फैलने की खबर आ रही है।


  • हथीन (Hathin) के वरिष्ठ चिकित्सा अधिकारी, डॉ विजय कुमार ने एएनआई को बताया कि इस वायरल फीवर को रोकने के प्रयास किया जा रहा हैं। उन्होंने कहा “हमें बुखार के कुछ मामलों और एक-दो मौतों की खबर मिली। इन मामलो पर संज्ञान लेते हुए हमारी स्वास्थ्य टीमें यहां आई हैं।'


  • डॉ कुमार ने आगे बताया कि, बुखार के अन्य कारणों को जानने के लिए गांव वालो के सैम्पल्स का परीक्षण किया जा रहा है। “हमने 80 लोगों के नमूने लिए हैं जिन्हें बुखार है। लेकिन मलेरिया का कोई मामला सामने नहीं आया है। चार से पांच बच्चों की डेंगू से मौत हो चुकी है और कई बच्चे बीमार हैं।"


  • वही दूसरी ओर, फिरोजाबाद में 12,000 लोग डेंगू संक्रमण से प्रभावित है, जिसमें अबतक 114 लोगों की जान चली गई। इन मृत लोगों में 88 बच्चे शामिल थे।


  • नेशनल सेंटर फॉर डिजीज कंट्रोल की एक टीम ने पिछले हफ्ते फिरोजाबाद में वायरल के प्रकोप की पहचान डेंगू संक्रमण के रूप में की थी।


  • केंद्र ने राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों को निर्देश दिया है कि वे डेंगू जैसी वेक्टर जनित बीमारियों के खिलाफ बचाव करे।


  • कोरोनावायरस से ज्यादा राज्यों में इस बुखार के बढ़ने से यह बेहद चिंता का विषय बन चुका है।




ये भी पढ़िए: यूपी में फ़ैल रहा ये मिस्ट्री फीवर क्या है? जानिए स्क्रब टाइफस के लक्षण और उपचार

 



Advertisment