Mysuru Gangrape Case Timeline: यहाँ जाने MBA की छात्रा से गैंगरेप मामले में अबतक क्या कार्यवाही हुई

Mysuru Gangrape Case Timeline: यहाँ जाने MBA की छात्रा से गैंगरेप मामले में अबतक क्या कार्यवाही हुई Mysuru Gangrape Case Timeline: यहाँ जाने MBA की छात्रा से गैंगरेप मामले में अबतक क्या कार्यवाही हुई

SheThePeople Team

28 Aug 2021


Mysuru Gangrape Case Timeline: पिछले कुछ दिनों से कर्नाटक के मैसूर शहर में 23 वर्षीय कॉलेज की छात्रा के साथ हुए गैंगरेप की खबर खूब विवादों में है। MBA की छात्रा के बलात्कार की घटना ने सुरक्षा और प्रशासन की पोल खोल के रख दी है। 24 अगस्त को हुई इस घटना को लगभग 5 दिन हो गए है। आइये जानते है मामले में अबतक क्या कार्यवाही हुई।

Mysuru Gangrape Case Timeline:


24 अगस्त की शाम को 5 लड़को ने किया था लड़की के साथ गैंगरेप

24 अगस्त की शाम को जब लड़की अपने बॉयफ्रेंड के साथ जंगली इलाके से लौट रही थी, तभी उसके साथ पांच अज्ञात लोगों ने सामूहिक बलात्कार किया। पुलिस ने बुधवार 25 अगस्त को लड़की के दोस्त के बयान पर मामला दर्ज किया था। बयान में लड़के ने बताया शुरुवात में तो गुंडों ने कथित तौर पर कपल से पैसे लेने की कोशिश की और मना करने पर जंगल में उनका पीछा किया। थोड़ी ही देर में 5 लोगो के उस गिरोह ने दोनों को जंगल में घेर लिए। इसके बाद गिरोह के दो सदस्यो ने महिला को दूसरे स्थान पर ले गए और कथित तौर पर उसका यौन उत्पीड़न किया। बाकी के बचे लोगो ने लड़के की जमकर पिटाई की। यहाँ पढ़े पूरी खबर। 

मामले में कर्नाटक राज्य महिला आयोग की पूर्व अध्यक्ष ने दिया विवादित बयान

घटना के 2 दिन बाद ही कर्नाटक राज्य महिला आयोग की पूर्व अध्यक्ष मंजुला मनसा ने विवादित बयान दिया। उन्होंने कहा कि वह बलात्कार पीड़िता से “घृणा और शर्मिंदा” है क्योंकि वह और उसका प्रेमी रात में एक सुनसान जगह पर गए थे। यहाँ पढ़े पूरी खबर। 

घटना के 4 दिन बाद हुई आरोपियों की गिरफ्तारी

छात्रा से गैंगरेप मामले में 4 दिन बाद 5 आरोपियों को गिरफ्तार किया गया। गिरफ्तार किये गए आरोपी 20 साल के छात्र थे, जो शहर के एक प्रतिष्ठित इंजीनियरिंग कॉलेज में पढ़ रहे थे। शनिवार दोपहर को मामले से जुड़ी और खबरें सामने आने की उम्मीद है।

मैसूर यूनिवर्सिटी ने घटना के मद्देनज़र जारी किया एक सर्कुलर

मामले को तूल पकड़ता देख मैसूर यूनिवर्सिटी ने शुक्रवार को एक सर्कुलर जारी किया। सर्कुलर में यूनिवर्सिटी ने 27 अगस्त से शाम 6:30 बजे के बाद कैंपस में महिला छात्रों की आवाजाही पर रोक लगाने का आदेश दिया है। यह फैसला 24 अगस्त को एमबीए छात्रा के साथ हुए गैंग रेप मामले के बाद लिया गया है। यूनिवर्सिटी का कहना है कि ये आदेश “छात्राओं की सुरक्षा” सुनिश्चित करने के लिए दिया गया है।

अगले ही दिन वापस लिया आदेश

शनिवार को दोपहर में खबर आती है कि कर्नाटक के उच्च शिक्षा मंत्री डॉ सीएन अश्वत्नारायण के आदेश के बाद यूनिवर्सिटी ने अपना ये सर्कुलर वापस ले लिया है। ANI ने ट्वीट करते हुए बताया “मैसूर में दुखद घटना के मद्देनजर, मैंने वीसी को आदेश वापस लेने के लिए सूचित किया, जैसे ही मैसूर विश्वविद्यालय द्वारा जारी सर्कुलर में शाम 6.30 बजे के बाद विश्वविद्यालय परिसर में छात्रों की आवाजाही पर रोक लगाई गई थी। अब ये आदेश वापस ले लिया गया है। ” कर्नाटक उच्च शिक्षा मंत्री, डॉ सीएन अश्वत्नारायण। यहाँ पढ़े पूरी खबर। 


अनुशंसित लेख