COVID-19 से जूझने के बाद 9 मई को एस्ट्रोनॉमी एजुकेटर नंदीवाड़ा रत्नाश्री का निधन हो गया। वह पिछले 21 वर्षों से दिल्ली में नेहरू प्लेनेटोरियम और साइंस म्यूज़ियम की डायरेक्टर थीं।

रिपोर्ट्स के अनुसार एस्ट्रोनॉमी एजुकेटर 1996 में प्लेनेटोरियम में शामिल हुई और नवंबर 2021 में रिटायर होने के लिए तैयार थी । उन्हें अपने लंबे कार्यकाल के दौरान कई आशाजनक और नई पहल और प्रोजेक्ट्स का श्रेय दिया गया है। 57 वर्षीय, एस्ट्रोनॉमिकल सोसाइटी ऑफ़ इंडिया की पब्लिक आउटरीच और शिक्षा समिति (ASI-POEC) की पहली अध्यक्ष भी थीं।

COVID-19 कॉम्प्लीकेशन्स के कारण रत्नाश्री को दिल्ली के एक अस्पताल में भर्ती कराया गया था और ICU में एक सप्ताह बिताने के बाद उनका रविवार को निधन हो गया। उनकी शादी पैट्रिक दास गुप्ता से हुई, जो दिल्ली विश्वविद्यालय के फिजिक्स  और एस्ट्रोफिजिक्स में एक प्रोफेसर थे, और उनके परिवार में एक बेटे, बहू और पोती हैं।

1999 में नेहरू प्लेनेटोरियम की डायरेक्टर नियुक्त, रत्नाश्री ने अपनी मृत्यु तक यह पद संभाला। इन 21 वर्षों की सेवा के दौरान, वह भारत में एस्ट्रोनॉमी की शिक्षा की मशाल बन गईं। प्रसिद्ध वैज्ञानिक, इंटर-यूनिवर्सिटी सेंटर फॉर एस्ट्रोनॉमी एंड एस्ट्रोफिजिक्स (IUCAA) ने कहा कि लेट अकडमीशन “देश के सबसे एक्टिव साइंस कम्युनिकटर्स में से एक थे” और उन्होंने जनता को एस्ट्रोनॉमी को लोगों तक पहुंचाने में मदद करने के लिए प्रेरित किया। विशेष रूप से बच्चों को।

इस ट्वीट ने उन्हें अनगिनत लोगों के लिए एक प्रेरणा के रूप में मेंशन किया, जो एस्ट्रोनॉमी और साइंस कम्युनिकेशन को बढ़ने की इच्छा रखते हैं। उनके नेतृत्व में, नेहरू प्लेनेटोरियम शहर के प्रतिष्ठित इंस्टीट्यूशंस में से एक बन गया।

IUCAA ने ट्वीट की एक सीरीज में कहा कि रत्नाश्री को “भारत की विज्ञान की समृद्ध विरासत” शेयर करने का जुनून था और वह दिल्ली, जयपुर और वाराणसी में जंतर मंतर परिसर में एक एक्सपर्ट भी थीं। वह अक्सर लोगों को शिक्षित करती थी और अक्सर अपने छात्रों के साथ एक्सपेरिमेंट  या मेज़रमेंट करती थी।

मिनिस्ट्री ऑफ कल्चर के आधिकारिक ट्विटर अकाउंट ने एस्ट्रोनॉमी एजुकेटर के निधन पर शोक व्यक्त करते हुए ट्वीट में लिखा, “डॉ. एन. रत्नाश्री के दुर्भाग्यपूर्ण निधन के बारे में जानकर बहुत दुख हुआ।”

रत्नाश्री ने टाटा इंस्टीट्यूट ऑफ फंडामेंटल रिसर्च से स्टेलर एवोल्यूशन में पीएचडी की थी और अमेरिका के वर्मांट यूनिवर्सिटी में पल्सर एस्ट्रोनॉमी  पर पोस्ट-डॉक्टरल रिसर्च किया था।

Email us at connect@shethepeople.tv