Navi Mumbai Case: एबॉर्शन फेल होने से प्रेग्नेंट महिला की मौत, डॉक्टरों ने कहा कोविड पॉजिटिव थी महिला

Navi Mumbai Case: एबॉर्शन फेल होने से प्रेग्नेंट महिला की मौत, डॉक्टरों ने कहा कोविड पॉजिटिव थी महिला Navi Mumbai Case: एबॉर्शन फेल होने से प्रेग्नेंट महिला की मौत, डॉक्टरों ने कहा कोविड पॉजिटिव थी महिला

SheThePeople Team

19 Oct 2021


Navi Mumbai Case: हाल ही में नवी मुंबई के इलाके में एक 6 हफ्ते से प्रेग्नेंट महिला के एबॉर्शन में गड़बड़ी होने की वजह से मौत हो गई। डॉक्टरों ने अपनी गलती छुपाने के लिए महिला को कोविड पॉजिटिव बताया और कहा कि कोविड के कारण उनकी मौत हो गई। 

Navi Mumbai Case: एबॉर्शन फेल होने से प्रेग्नेंट महिला की मौत, डॉक्टरों ने कहा कोविड पॉजिटिव थी महिला



  • नवी मुंबई इलाके में पैथोलॉजी के 2 डॉक्टरों समेत 6 डॉक्टरों ने अनसकसेसफूल एबॉर्शन के बाद पेशेंट की मौत को कोविड -19 से हुई मौत की तरह दर्शाया।

  • डॉक्टर्स ने अपना जुर्म छुपाने के लिए पेशेंट के परिजनों को बॉडी न सौंपते हुए कहा कि कोरोना पोसिटिव होने के कारण इनको किसी कांटेक्ट में लाना खतरनाक हो सकता है।

  • हालांकि, परजनों ने RT-PCR टेस्ट करवाया तो महिला के सभी रिजल्ट नेगेटिव रहे। इसके बाद डॉक्टरों पर कारवाही कि मांग की जाने लगी।

  • प्रेग्नेंट अधिवक्ता, अश्विनी थावै, उस वक़्त महज 6 हफ्ते की प्रेग्नेंट थीं। लेकिन डॉक्टर्स ने कुछ मेडिकल पर्पस के कारण अश्विनी को एबॉर्शन यानि गर्भपात करने की सलाह दी

  • डॉक्टर के अनुसार उसे एबॉर्शन पिल दी गई थी लेकिन किसी कारण से प्रेगनेंसी पूरी तरह ख़त्म नहीं हो पाई और फिर महिला को एबॉर्शन करवाना पड़ गया।

  • 1 मई को उनकी सर्जरी हुई कि उनके पास सभी चिकित्सा सुविधाएं हैं। हालांकि, ज्यादा मात्रा में रक्तस्राव या ब्लीडिंग के कारण महिला हालत गंभीर हो गई और ऑपरेशन या एबॉर्शन के लगभग 45 मिनट बाद महिला अधिवक्ता की मौत हो गई। 

  • सच्चाई का पता न लग पाए इसके लिए डॉक्टरों ने मिलके पेशेंट की मौत को कोविड-19 के कारण मौत बता दिया।

  • डॉक्टरों ने पेशेंट की बॉडी, घर वालों को हैंडओवर करने से मना कर दिया; ताकि उनके झुठ का पता न लग सके।

  • महिला के परिजनों ने RT-PCR टेस्ट करवा कर ये साबित कर दिया कि महिला को किसी भी प्रकार से कोविड नहीं था। फिर आखिर कैसे एबॉर्शन करने में महिला कि मौत हो गई।


अनुशंसित लेख