गर्भवती महिला को पति ने जलती आग में फेंका, पुलिस ने दर्ज FIR

महिला को उसकी इंजरीज़ के लिए सफदरजंग अस्पताल में भर्ती कर दिया गया, पुलिस ने बताया कि उस महिला को कई चोटें आई हैं। डॉक्टरों का कहना है कि गर्भवती महिला और उसके बच्चे की हालत गंभीर है। जानें पूरी जानकारी इस न्यूज़ ब्लॉग में-

Vaishali Garg
10 Jan 2023
गर्भवती महिला को पति ने जलती आग में फेंका, पुलिस ने दर्ज FIR

Pregnant Woman Set On Fire

Pregnant Woman Set On Fire: 7 महीने की एक प्रेगनेंट महिला को कथित तौर पर उसके पति ने आग लगा दी और दोनों हाथ, पैर, चेहरे और छाती पर 20-30 प्रतिशत जलने की चोटें आईं। शुरुआत में, खुशबू के रूप में पहचानी जाने वाली महिला ने जांच अधिकारी को बताया कि यह घटना घर में आग लगने के कारण हुई थी और कोई मामला दर्ज नहीं किया गया था। हालांकि, 26 वर्षीय ने बाद में पुलिस को बताया की उसका पति वीर प्रताप उसे परेशान कर रहा था और लड़ाई के दौरान उसे आग के हवाले कर दिया।

पुलिस ने बताया कि आरोपी पर भारतीय दंड संहिता के तहत हत्या के प्रयास और महिलाओं के खिलाफ क्रूरता (पति द्वारा) की धाराओं के तहत मामला दर्ज किया गया है, लेकिन अभी तक उसे गिरफ्तार नहीं किया गया है।

Pregnant Woman Set On Fire

पुलिस के अनुसार, दिल्ली के बवाना की रहने वाली खुशबू ने शुरुआत में पुलिस को बताया कि ठंड के कारण परिवार अलाव के पास बाहर बैठा है। उसने दावा किया कि जब आग बुझने वाली थी तो परिवार के सदस्यों में से एक ने पेंट थिनर को आग में डाल दिया। खुशबू ने शुरू में कहा कि आग की लपटें "तीव्र" हो गईं और वह जल गईं।

महिला को उसकी इंजरीज़ के लिए सफदरजंग अस्पताल में भर्ती कर दिया गया, पुलिस ने बताया कि उस महिला को कई चोटें आई हैं।  डॉक्टरों का कहना है कि गर्भवती महिला और उसके बच्चे की हालत गंभीर है। पुलिस सूत्रों के अनुसार, महिला ने बाद में खुलासा किया कि उसके पति ने उसे कथित तौर पर परेशान किया और अपने ससुराल वालों के "दबाव" के कारण झूठ बोला।

पुलिस उपायुक्त (डीसीपी) ने कहा कि महिला के भाई ने यह भी आरोप लगाया है कि उसे उसके ससुराल वालों द्वारा परेशान किया जा रहा था।  इस कपल ने अगस्त 2022 में शादी की और महिला ने कहा कि उसका पति अपराधी है। पुलिस ने कहा कि ससुराल वालों के खिलाफ अभी तक कोई आरोप नहीं लगाया गया है।

महिला के भाई ने दिल्ली महिला आयोग (DCW) से भी संपर्क किया और आरोप लगाया कि दंपति पैसे को लेकर नियमित रूप से लड़ते थे।  उसने आरोप लगाया कि पति ने गर्भवती महिला को आग लगा दी और जब स्थानीय लोगों ने उसे देखा तो वह घबरा गया और आग बुझाने की कोशिश की और झुलस गया।  DCW की चेयरपर्सन स्वाति मालीवाल ने ट्वीट किया कि महिला आयोग ने इस घटना को लेकर दिल्ली पुलिस को नोटिस जारी किया है। उसने लिखा, "हमने दिल्ली पुलिस को नोटिस जारी किया है और पीड़ित को हर संभव सहायता प्रदान की है"।

Read The Next Article