Priyanka Gandhi Marathon Cancelled: बरैली में भगदड़ के बाद कांग्रेस रैली "मैं लड़की हूँ लड़ सकती हूँ" मैराथन कैंसिल

Priyanka Gandhi Marathon Cancelled: बरैली में भगदड़ के बाद कांग्रेस रैली "मैं लड़की हूँ लड़ सकती हूँ" मैराथन कैंसिल Priyanka Gandhi Marathon Cancelled: बरैली में भगदड़ के बाद कांग्रेस रैली "मैं लड़की हूँ लड़ सकती हूँ" मैराथन कैंसिल

SheThePeople Team

05 Jan 2022


Priyanka Gandhi Marathon Cancelled: प्रियंका गाँधी वाड्रा की "मैं लड़की हूँ लड़ सकती हूँ" मैराथन जारी थी और कई जगह जैसे कि नॉएडा, वाराणसी, मीरुत में इसकी तैयारी कि गयी थी। फ़िलहाल यह रैली कैंसिल कर दी गयी है इसका कारण है कल बरैली में मची भगदड़। इसकी वीडियो पूरे सोशल मीडिया पर वायरल हुई और किस तरीके से कोरोना के नियमों का उल्लघन किया गया इसको लेकर सभी जगह विरोध किया गया।

क्यों हुई कांग्रेस की उत्तर प्रदेश रैलियां कैंसिल?

आज कांग्रेस पार्टी ने इनकी सभी रैली की कैंसिल होने की घोषणा की जो "मैं लड़की हूँ लड़ सकती हूँ" अभियान के अंतर्गत रखी गयी थीं। बरैली में भगदड़ के बाद यहाँ के सुप्रीटेंडेंट ऑफ़ पुलिस ने कहा कि सभी लोगों के खिलाफ केस दर्ज कर दिया गया है जिन्होंने यह इवेंट ऑर्गेनाइस करवाया था।

Priyanka Gandhi Marathon Cancelled 

वायरल वीडियो में साफ़ नज़र आ रहा था कि कई सारी लडकियां मैराथन के चालू होने का इंतज़ार कर रही थीं। जैसे ही यह चालू हुई पहली लाइन की सभी लडकियां गिर गयी और उसके बाद उनके पीछे की भी गिरती गयीं। इसके चलते कई लड़किओं को चोट भी लगी है और मामला पुलिस में दर्ज कर दिया गया है। 

उत्तर प्रदेश के अलावा कई और स्टेट में भी कोरोना की तीसरी लहर के आने के खतरे को लेकर सभी चिंतित हैं। उत्तर प्रदेश में कल 4 जनवरी को 900 कोरोना मामले सामने आए सिर्फ 24 घण्टे के अंदर। उत्तर प्रदेश के चीफ मिनिस्टर योगी आदित्यनाथ भी सभी रैलियां कैंसिल कर चुके हैं कोरोना के बढ़ते मामले देखने के बाद।

क्या है "मैं लड़की हूँ लड़ सकती हूँ" अभियान?

यह अभियान कांग्रेस जनरल सेक्रेट्री प्रियंका गाँधी द्वारा इस इलेक्शन में चलाया गया है। इस अभियान का मतलब है कि हाँ में लड़की हूँ और मैं लड़ सकती हूँ। पिछली साल दिसंबर 2021 में इसका वीडियो सांग रिलीज़ किया था प्रियंका गाँधी के और उत्तर प्रदेश कांग्रेस के अकाउंट से।

यह "मैं लड़की हूँ लड़ सकती हूँ" कैंपेन महिलाओं को ध्यान में रखकर बनाया गया है। इसके साथ ही प्रियंका गाँधी ने 40 % सीटें महिलाओं को देने की घोषणा भी की थी। इसके बाद आने वाले चुनाव में कई और पार्टीज ने भी महिलाओं पर फोकस करना चालू कर दिया है। इन सबके अलावा कांग्रेस ने 12 पास लड़कियों एक लिए स्मार्टफोन और ग्रेजुएट लड़कियों को स्कूटर देने का भी कहा है इनके घोषणापत्र में।


अनुशंसित लेख