प्रियंका गाँधी मोदी ब्लैक फंगस – कांग्रेस की जनरल सेक्रेटरी प्रियंका गाँधी ने प्राइम मिनिस्टर मोदी से बालक फंगस का ट्रीटमेंट लोगों को फ्री में देने की अपील की। प्रियंका का कहना है कि जब एक बेटी अपने पिता के इलाज के लिए पैसे मांगती है तो ये देश के लिए बहुत दुखद बात है। ऐसा ही मामला दिल्ली के आर्मी हॉस्पिटल में हुआ था।

प्रियंका गाँधी ने PM मोदी से ब्लैक फंगस को लेकर क्या कहा ?

प्रियंका ने कहा की अभी देश में कुल 11,000 से ज्यादा मामले ब्लैक फंगस के आ चुके हैं। ऐसे में इंजेक्शन की कमी पूरे देश में है। इन्होंने ये भी कहा कि देश में ब्लैक फंगस के केस से होने वाली मौतों का दर 50 प्रतिशत से ऊपर है। इनका कहना है कि सरकार को देखकर लगता नहीं है कि हाल की देश की परिस्तिथि को लेकर सीरियस हैं।

लोग ब्लैक फंगस के इलाज के लिए लाखों के इंजेक्शन ले रहे हैं और ये आयुष्मान भारत के अंतर्गत नहीं आ रहा है। इन्होंने सरकार से अपील की है कि ये इलाज सरकार के आयुष्मान भारत के अंतर्गत रखा जाये।

इस से पहले प्रियंका ने UP CM को लेटर लिखा था

प्रियंका गाँधी ने लेटर एकदम आम जनता और मिडिल क्लास को ध्यान में रखकर भेजा है। इस में इन्होंने लिखा कि पब्लिक वेलफेयर के लिए सरकार पुष्टि करे कि कहीं प्राइवेट हॉस्पिटल में आम लोगों से ज्यादा पैसे तो नहीं लिए जा रहे हैं। सभी लोग इन्फ्लेशन की चपेट में हैं और महंगी दवाइयां और ट्रीटमेंट सही नहीं है।

कोरोना की दूसरी लहर का असर लोगों पर बहुत बुरा पढ़ा है। इस से लोग परेशान हैं और असहनीय दर्द में हैं क्योंकि सरकार ने तैयारी में कमी रखी। अप्रैल मई के केस और हालात से साफ़ पता लगता है सरकार ने कोई भी तैयारी कर के नहीं रखी थी।

पेन्डेमिक के कारण कई लोगों की नौकरियां चली गयी हैं ऐसे में लोग बड़ी मुश्किल से अपने घर का खर्चा चला पा रहे हैं। पैसे कम कमा रहे हैं और दवाइयां और सामान मेहेंगा होता जा रहा है। इसके कारण मिडिल क्लास बहुत मुश्किल में है।

Email us at connect@shethepeople.tv