रशिका अग्रवाल, एक 25 साल की शादीशुदा महिला है ,जो पश्चिम बंगाल के पॉश एरिया अलीपुर में रहती थी। 16 फरवरी को रशिका की ससुराल की तीसरी मंजिल की छत से गिरकर, मौत हो गई। उसे अस्पताल ले जाया गया लेकिन गंभीर चोटों के कारण वह नहीं बच पाई। अब उसके माता-पिता का आरोप है कि उनकी बेटी को ससुराल में “टॉर्चर” किया जाता था जिस कारण वह “आत्महत्या करने के लिए मजबूर” हो गयी थी। राशिका अग्रवाल ट्विटर ट्रैंड

न्यूज़ रिपोर्ट्स के मुताबिक़, उनके परिवार ने आरोप लगाया कि राशिका को उसके पति, इंडस्ट्रियलिस्ट कुशल अग्रवाल और अन्य लोगों ने टॉर्चर किया, जिससे उसकी मौत हो गई। घटना के बाद से Justice for Rashika ट्विटर पर ट्रेंड कर रहा हैं, क्योंकि जनता मामले की जांच चाहती है।

10 बातें, जो आपको राशिका अग्रवाल डेथ केस के बारे में जाननी चाहिए :

  1. फरवरी 2020 में, राशिका की शादी कुशल भारत ग्रुप के मालिक के बेटे कुशल अग्रवाल से हुई थी। राशिका के परिवार का दावा है कि कुशल को नशे की लत थी ,जिसकी जानकारी उन्हें शादी से पहले नहीं थी , और वह नशे की हालत में राशिका को मारता था।
  2. राशिका जैन के परिवार वालो का यह भी दावा है कि उन्होंने लड़के को 7 करोड़ रुपये दहेज़ में दिए थे।
  3. रशिका के पिता के मुताबिक़ उनकी बेटी को आत्महत्या के लिए मजबूर किया गया। “मेरी बेटी ने Whatsapp पर मुझे, मेरे बेटे रिशव, कुशाल और नरेश को मरने से पहले एक मैसेज भेजा था। उस मैसेज में लिखा था ” “मैंने यहां रहने की कोशिश की, लेकिन मैं और टॉर्चर को सहन नहीं कर सकती। बेहतर होगा कि मैं मर जाऊं। पापा मुझे मिस मत करना। ”
  4. उसके बाद राशिका की सास नीलम अग्रवाल ने राशिका की माँ को फोन करके बताया कि रशिका छत से कूद गई है।
  5. 17 फरवरी को, रशिका के पिता ने अपने पति और ससुराल वालों के खिलाफ पुलिस में शिकायत दर्ज की। लेकिन, पुलिस ने उन्हें बताया कि अग्रवाल परिवार फरार है।
  6. कंप्लेंट लैटर के आधार पर, “कुशल अग्रवाल और उसके परिवार” के खिलाफ FIR दर्ज की गई, उन पर आत्महत्या और बेरहमी से जुड़ी धाराओं के तहत आरोप लगाया गया। आरोप सिद्ध होने पर 10 वर्ष की जेल की सजा हो सकती है।
  7. जांच के दौरान, रशिका का ‘लापता’ मोबाइल फोन बरामद किया गया, जिसका इस्तेमाल उसकी मौत से घंटों पहले उसके परिवार के सदस्यों को मैसेज भेजने के लिए किया गया था। उसके परिवार का मानना ​​है कि यह फोन अहम सबूत दे सकता है। डिटेक्टिव डिपार्टमेंट ने राशिका का पर्सनल टैब भी बरामद किया है, जिसका पासवर्ड रशिका ने अपने भाई रिशव को शेयर किया था।
  8. एक सीसीटीवी फुटेज में 16 फरवरी को राशिका को छत से गिरते हुए देखा गया था।
  9. रशिका एक अच्छे खासे परिवार से थी। उन्होंने कोलकाता के सेंट जेवियर्स कॉलेज और सिंगापुर के नेशनल यूनिवर्सिटी में अपनी पढ़ाई पूरी की।
  10. कोलकाता और सिंगापुर के उनके दोस्तों ने 28 फरवरी को ट्विटर, फेसबुक और इंस्टाग्राम पर #JusticeForRashika सोशल मीडिया कैंपेन शुरू किया। इस कैंपेन का मकसद राशिका की मौत के पीछे के सच को जानना है। राशिका अग्रवाल ट्विटर ट्रैंड

Email us at connect@shethepeople.tv