रितिका फोगट आत्महत्या: फेमस रेसलर गीता और बबीता फोगट की मैटरनल सिस्टर रितिका फोगट ने भरतपुर में चल रहे एक लोकल  रेसलिंग टूर्नामेंट के फाइनल में हारने के बाद आत्महत्या कर ली। खबरों के मुताबिक फाइनल मैच हारने के बाद रितिका बहुत परेशान थी।

कथित तौर पर, रितिका  सिर्फ एक पॉइंट से हारने के बाद, इंसल्ट सहन नहीं कर पाई और बुधवार रात करीब 11 बजे खुद को फांसी लगा ली। वह केवल 17 साल की थी।

कहा जा रहा है कि रितिका ने स्टेट लेवल सब जूनियर टूर्नामेंट के फाइनल मुकाबले में हार की वजह से यह कदम उठाया। उन्होंने अपने फूफा महाबीर फोगाट के गांव बलाली में फांसी लगाकर खुदकुशी की. फिलहाल पुलिस ने पोस्‍टमार्टम के बाद शव परिजनों को सौंप दिया है।

रिपोर्ट के मुताबिक, 17 साल की रितिका पिछले पांच सालों से अपने फूफा महाबीर फोगाट से कुश्ती की ट्रेनिंग ले रही थी। रितिका ने 12 से 14 मार्च के बीच स्टेट लेवल सब जूनियर टूर्नामेंट में हिस्सा लिया था। इस टूर्नामेंट में ही 14 मार्च को फाइनल मुकाबले में रितिका हार गईं थी। इस हार से निराश होकर उन्होंने फांसी लगाकर अपनी जान दे दी।

रितिका की उपलब्धियाँ

रितिका के पास लोहागढ़ स्टेडियम में स्टेट लेवल सब-जूनियर, जूनियर महिलाओं और लेटेस्ट में रेसलिंग में हिस्सा लेने का रिकॉर्ड था। उसने अपनी केटेगरी के प्रोग्राम के फाइनल में हिस्सा लिया था, जो रविवार (14 मार्च) को आयोजित किया गया था और वह एक नैरो मार्जन से हार गयी थी।

लोगों ने व्यक्त की संवेदनाएं

ट्विटर पर, पूर्व सेनाध्यक्ष और सड़क परिवहन और राजमार्ग राज्य मंत्री, विजय कुमार सिंह ने अपनी संवेदना व्यक्त की और लिखा, “भयानक खबर कि हमने #रितिकाफोगट को खो दिया, जिसके पास एक शानदार करियर था। दुनिया कुछ दशकों पहले जहां से बदल गई है। एथलीट्स आज ऐसे प्रेशर का सामना कर रहे हैं जो पहले नहीं थे। उनकी ट्रेनिंग का एक ज़रूरी हिस्सा इस स्ट्रेस से निपटना होना चाहिए था। ”

गीता और बबीता फोगट एस्पिरिंग वीमेन व्रेस्टलेर्स के लिए रोल मॉडल बन गईं, ऐसा उनके जीवन पर आधारित फिल्म दंगल के 2016 में रिलीज़ होने के बाद हुआ। पहलवानों के प्रसिद्ध परिवार से आने वाली, रितिका ने द्रोणाचार्य अवार्डी और फोगट बहनों के पिता महावीर फोगट के तहत ट्रेनिंग ली थी, जो मैच के दौरान भी मौजूद थे। रितिका फोगट आत्महत्या

Email us at connect@shethepeople.tv