Ruhani Didi: कौन है रूहानी दीदी? डेरा मुखी ने हनीप्रीत का नाम बदला

Rajveer Kaur
27 Oct 2022
Ruhani Didi: कौन है रूहानी दीदी? डेरा मुखी ने हनीप्रीत का नाम बदला

डेरा सच्चा सौदा के मुखी राम रहीम जो कि जेल से परोल पर छूटा है उसने एक बार फिर अपनी गोद ली बच्ची जिसे सब हनीप्रीत कौर इन्सान के नाम से जानते है अब राम रहीम की तरफ़ से उसके नए नाम का एलान हुआ है। राम रहीम का कहना है हनीप्रीत उसकी धरम की बेटी और मुख्य शिष्या हैं अब सब लोग उसे रूहानी दीदी के नाम से जानेंगे। पहले हनीप्रीत भी राम राम रहीम ने ही दिया था। राम रहीम ने कहा, "वह मानवता के कल्याण के लिए काम कर रही हैं और हमेशा अपने 'पापा' (डेरा प्रमुख) की बात सुनती हैं," उसने डेरा मुख्यालय में नंबर दो के रूप में अपनी स्थिति का संकेत दिया।  

डेरा मुखी ने हनीप्रीत का नाम बदला  

दीदी से कन्फ़्यूज़न पैदा होता था
सूचना एजेंसी एएनआई के अनुसार, डेरा सच्चा सौदा प्रमुख गुरमीत राम रहीम का कहना है- 

हमारी बेटी का नाम हनीप्रीत है। चूंकि हर कोई उन्हें 'दीदी' कहता है, इसलिए यह भ्रम पैदा करता है क्योंकि हर कोई 'दीदी' है। इसलिए हमने अब उसका नाम 'रुहानी दीदी' रखा है और इसका उच्चारण आसान करने के लिए 'रूह दी'।

मर्डर और रेप का अपराधी

राम रहीम जो मर्डर और रेप का अपराधी है और सुनारिया जेल से पैरोल मिलने के बाद बरनावा आश्रम में रह रहा है। वहीं से वह अपने भगतों को ऑनलाइन संबोधन भी कर रहा है। इससे पहले, 3.52 मिनट का एक पंजाबी वीडियो गाना जारी किया था, जिसमें यूपी के बागपत में स्थित उनके डेरा से खुद को दिखाया गया था।

कौन है रूहानी दीदी
रूहानी दीदी को सब हनीप्रीत इंसा के नाम से जानते है। इसकाअसली नाम प्रियंका तनेजा है। डेरा प्रमुख राम राम रहीम इसको अपनी बेटी मानता है। यह हमेशा अपने आप को ‘पापा का परी’ मानती है हालाँकि इनके संबंधों का आज तक कोई स्पष्टीकरण नहीं हुआ है। ट्विटर पर उनके एक मिलियन से अधिक और फेसबुक पर लगभग 5 लाख फॉलोअर्स हैं।  उनके नाम पर एक वेबसाइट भी है जो उन्हें एक परोपकारी, संपादक, अभिनेता और निर्देशक के रूप में वर्णित करती है।  वह राम रहीम के साथ कई फिल्मों में भी नजर आ चुकी हैं।

हनीप्रीत हरियाणा के फ़तहबाद से सम्बंध रखती है। डेरा के स्कूल में ही पढ़ी है। 1999 में डेरा के एक भगत जिसका नाम विश्वास गुप्ता उससे शादी की थी।गुप्ता ने हनीप्रीत और डेरा प्रमुख के बीच अवैध संबंध रखने का आरोप था।

राम रहीम की गिरफ्तारी के कुछ दिनों बाद, हनीप्रीत, को डेरा समर्थकों द्वारा विरोध प्रदर्शन के दौरान हिंसा पर गिरफ्तार किया गया था, जब राम रहीम को हरियाणा के सिरसा में अपने आश्रम में दो अनुयायियों के साथ बलात्कार का दोषी घोषित किया गया था। पुलिस के मुताबिक, हिंसा में 38 लोग मारे गए थे।

अनुशंसित लेख