सब्यसाची मंगलसूत्र कंट्रोवर्सी: क्या ब्रांड्स जान पूंछकर रस्म और रिवाज के ऊपर एड बनाते हैं?

सब्यसाची मंगलसूत्र कंट्रोवर्सी: क्या ब्रांड्स जान पूंछकर रस्म और रिवाज के ऊपर एड बनाते हैं? सब्यसाची मंगलसूत्र कंट्रोवर्सी: क्या ब्रांड्स जान पूंछकर रस्म और रिवाज के ऊपर एड बनाते हैं?

SheThePeople Team

28 Oct 2021

सब्यसाची मंगलसूत्र कंट्रोवर्सी: कल शाम से सभी जगह सब्यसाची कंट्रोवर्सी चर्चा में हैं। ट्विटर पर इसको लेकर सभी जगह हिन्दू विद्रोह कर रहे हैं। सब्यसाची हाल में ही इनकी ज्वेलरी कलेक्शन को लेकर आया है और इसे दर्शाने का तरीका लोगों को कुछ खास पसंद नहीं आया है। सबसे बड़ी बात जिसके कारण से सब्यसाची को ट्रोल किया जा रहा है वो है मंगलसूत्र को गलत तरीके से दिखाना। सब्यसाची ने इनकी ज्वेलरी में मंगलसूत्र भी लांच किया है। मंगलसूत्र हिन्दू में सुहाग की निशानी मानी जाती है और शादी के वक़्त दुल्हन को पहनाया जाता है।

सब्यसाची मंगलसूत्र कंट्रोवर्सी क्या है?


सब्यसाची के इस नए एड में सेम सेक्स के कपल हैं और महिलाएं अंदरूनी कपड़ें पहन कर पोज़ कर रही हैं। इनका जो मैन पोस्टर है जिसको लेकर विद्रोह किया जा रहा है उस में महिला ब्रा में है और मंगलसूत्र का एड कर रही है। इसको देख कर कई इस एड की तुलना कंडोम के एड से या फिर ब्रा के एड से कर रहे हैं।

https://twitter.com/KananShah_/status/1453297456804995088?ref_src=twsrc%5Etfw%7Ctwcamp%5Etweetembed%7Ctwterm%5E1453297456804995088%7Ctwgr%5E%7Ctwcon%5Es1_&ref_url=https%3A%2F%2Fd-31916566342691502767.ampproject.net%2F2110152252002%2Fframe.html

सब्यसाची के कपड़ों की जानी मानी ब्रांड है और इनके रॉयल और एलिगेंट कलेक्शन के लिए जानी जाती है। लोग मांग कर रहे है कि इस ब्रांड के एड को जल्द से हटाया जाए और ब्रांड से मांफी मांगने की मांग भी की जा रही है। मंगलसूत्र हिन्दू कल्चर में सुहाग ही निशानी मानी जाती है और इस तरीके से इसे दिखाना गलत है इससे हिन्दू को ठेस पहुंची है।

क्या ब्रांड्स जान पूंछकर रस्म और रिवाज के ऊपर एड बनाते हैं?


आजकल हिन्दू कल्चर को फोकस करके एड बनाना एक फैशन बनगया है। इससे पहले फैब इंडिया, जो कि एक कपड़ों की ब्रांड है ने भी अपना ऐसा ही एक एड दिवाली के लिए बनाया था लेकिन इसका नाम इन्होंने जश्न-ए-रिवाज रख दिया। अब दिवाली एक हिन्दू त्यौहार है और इसका नाम इन्होंने उर्दू में रख दिया था। इसी तरह इनकी मॉडल भी मुस्लिम की तरह तैयार थीं न कि हिन्दू की तरह बिंदी और चूड़ी पहनकर और आखिर में इन्हे माफ़ी मांग यह एड हटाना पढ़ा था।

https://twitter.com/rose_k01/status/1450064684648857600?t=hTX3jsqR-aKZi7vpCUQItw&s=09

लगातार इस तरीके के एड आने के कारण अब लोग सीरियसली सोच रहे हैं कि क्या ब्रांड्स ऐसा जान पूंछकर करती हैं ताकि उन्हें पब्लिसिटी मिले और मीडिया कवरेज मिले। इसी तरह का एड डाबर ने भी करवाचौथ के लिए बनाया था जिस में सेम सेक्स की लड़की आपस में एड दूसरे का व्रत तुड़वा रही थीं। इस में डाबर इनकी फेम ब्लीच का एड कर रहे थे लेकिन इसको लेकर भी लोग भड़के थे और आखिर में इन्हे माफ़ी मांग यह एड हटाना पढ़ा था।

https://twitter.com/Rajnish03521723/status/1452135666163191810?t=LUvtu45Sxfwfo2tgn-pc7A&s=09

अनुशंसित लेख