Supreme Court Slams Delhi Government: सुप्रीम कोर्ट ने दिल्ली सरकार के स्कूल खोलने के फैसले पर किया सवाल?

Supreme Court Slams Delhi Government: सुप्रीम कोर्ट ने दिल्ली सरकार के स्कूल खोलने के फैसले पर किया सवाल? Supreme Court Slams Delhi Government: सुप्रीम कोर्ट ने दिल्ली सरकार के स्कूल खोलने के फैसले पर किया सवाल?

SheThePeople Team

02 Dec 2021

Supreme Court Slams Delhi Government: दिल्ली में जैसा कि आपको पता ही है कि दिवाली के वक़्त बहुत प्रदूषण बढ़ जाता है। इस बार प्रदूषण का लेवल बहुत ज्यादा बढ़ जाने के कारण से दिल्ली में स्कूल भी बंद कर दिए गए थे। लेकिन अब जैसे ही प्रदूषण थोड़ा कण्ट्रोल में हुआ स्कूल वापस से खोल दिए गए हैं। दिल्ली सरकार के इस फैसले लो लेकर सुप्रीम कोर्ट खुश नहीं है।

सुप्रीम कोर्ट ने बच्चों की ऑनलाइन पढ़ाई को लेकर क्या कहा?


सुप्रीम कोर्ट का कहना है कि अगर लोग घर से काम कर सकते हैं तो बच्चे घर से क्यों नहीं पढ़ सकते हैं। बच्चों की पढ़ाई जैसे कि कोरोना के वक़्त ऑनलाइन चल रही थी वैसे ही अभी भी हो सकती है। बच्चों का इस बढ़ते प्रदूषण में स्कूल भेजना बहुत गलत है और ऐसा रिस्क नहीं लेना चाहिए।

दिल्ली सरकार ने प्रदूशण बढ़ने पर क्या कदम उठाये थे?


एनवायरनमेंट मिनिस्टर गोपाल राय का कहना है कि दिल्ली सरकार ने घर से काम और कंट्रक्शन और इंडस्ट्रीज से सभी काम को बंद करने का कहा है ताकि प्रदूशण कण्ट्रोल किया जा सके। मिनिस्टर ने यूनियन मिनिस्टर से स्टबल जलाने को लेकर भी क्लैरिटी मांगी है। क्योंकि दिल्ली में साल के ईसिस वक़्त ठण्ड बढ़ती है, दिवाली का त्यौहार आता है और आस पास के छेत्र में फसल बढ़ती है। इसके कारण अचानक से दिल्ली में प्रदूषण बहुत ज्यादा बड़ जाता है।

दिल्ली सेण्टर ने सुप्रीम कोर्ट में एफिडेविट भी फाइल किया है यह कहते हुए कि स्टबल बर्निंग से दिल्ली में 4 प्रतिशत प्रदूषण बढ़ता है। इसके बाद जब एक्सपर्ट्स के साथ मीटिंग की गयी उस में बताया गया था कि स्टबल बर्निंग से 40 परसेंट से दिल्ली में प्रदूषण बढ़ता है। इसके कारण से दिल्ली एनवायरनमेंट मिनिस्टर ने इन फैक्ट्स को क्लियर करने को कहा है क्योंकि एक ही एफिडेविट में यह दोनों बातें लिखी थीं।

इससे पहले दिल्ली के चीफ मिनिस्टर अरविन्द केजरीवाल ने स्कूल बंद करने का और कंट्रक्शन का काम रोकने का फैसला लिया था। इसके अलावा सरकारी जॉब्स वालों को घर से काम करने को कहा गया है ताकि पॉल्यूशन कम हो सके।

अनुशंसित लेख