तमिलनाडु PE टीचर गिरफ्तार: तमिलनाडु के स्कूल में भी शुरू हुआ #MeToo मूवमेंट। स्कूल की एक पूर्व छात्र ने पुरुष physical education (PE) टीचर पर यौन उत्पीड़न का लगाया आरोप। शिकायत के बाद मंगलवार को मयिलादुथुराई के पास इस टीचर को गिरफ्तार किया गया। आरोपी को पिछले हफ्ते हिरासत में लिया गया था और उसके तहत Protection of Children from Sexual Offences (POCSO) एक्ट के तहत मामला दर्ज किया गया था।

टीचर का नाम एस अन्नादुरई बताया जा रहा है जिसकी उम्र 52 साल है और वह दो दशकों से दीवान बहादुर टी रंगाचारी (डीबीटीआर) नेशनल हायर सेकेंडरी स्कूल में कर्मचारी था। उसकी गिरफ्तारी की खबर चेन्नई के अन्य स्कूलों में इसी तरह की घटनाओं के कुछ ही हफ्तों बाद आई है।

तीन साल पहले जब वह डीबीटीआर की छात्रा थी तब अन्नादुरई के खिलाफ एक महिला ने आरोप लगाया था कि उसने उसके साथ दुर्व्यवहार किया, उसे अनुचित तरीके से छुआ और उसके घर पर उसके साथ छेड़छाड़ की। दो अन्य छात्र उसका समर्थन करने और इसी तरह की शिकायत करने के लिए आगे आए, जिससे अन्नादुरई की गिरफ्तारी हुई। उसे सिरकाजी की एक जेल में रखा गया है।

कुछ वक़्त पहले भी चेन्नई के स्कूलों में बच्चो के साथ यौन शोषण का मामला आया था सामने

चेन्नई में पुलिस को पिछले एक हफ्ते में करीब 100 शिकायतें मिली हैं, इसके अलावा सोशल मीडिया पर गुमनाम शिकायतें तेजी से बढ़ रही हैं। आठ छात्रों के औपचारिक शिकायत दर्ज कराने के बाद तीन शिक्षकों को आरोपों में गिरफ्तार किया गया है, जिसमें बलात्कार का प्रयास भी शामिल है। राज्य बाल अधिकार संरक्षण आयोग (SCPCR) ने शीर्ष छह स्कूलों के मैनेजमेंट को 4 से 10 जून तक अलग-अलग तारीखों पर पूछताछ के लिए उपस्थित होने के लिए कहा है।

SCPCR चेयरपर्सन, सरस्वती रंगास्वामी ने बताया कि इन स्कूलों में पद्म शेषाद्री बाला भवन (PSBB), शेनॉय नगर में सेंट जॉन की शाखा, चेट्टीनाड विद्याश्रम, केंद्रीय विद्यालय- CLRI, महर्षि विद्या मंदिर और सुशील हरि इंटरनेशनल रेजिडेंशियल स्कूल जैसे नामी स्कूल शामिल है। तमिलनाडु PE टीचर गिरफ्तार 

Email us at connect@shethepeople.tv